लखनऊ में जल्द तैयार होगा इंटरनेशनल एयरपोर्ट, अमेरिका समेत इन देशों की शुरू होगी सेवा

Shubham Bajpai, Last updated: Fri, 17th Dec 2021, 9:07 AM IST
  • यूपी के लखनऊ से अब लोग आसानी से विदेशों की फ्लाइट भी ले सकेंगे. इसके लिए लखनऊ में नए इंटरनेशनल एयरपोर्ट को लेकर एलडीए प्रस्ताव तैयार कर रहा है. इसके पास होने के बाद जल्द ही नए एयरपोर्ट का निर्माण शुरू हो जाएगा. जिससे शहर की विदेशों से कनेक्टिविटी सीधी हो जाएगी.
A member of Taliban forces stands guard next to a plane at Hamid Karzai International Airport in Kabul on Sunday. (REUTERS)

लखनऊ. काफी समय से इंटरनेशनल उड़ानों का इंतजार कर रहे है लखनऊ वासियों को जल्द इंटरनेशल एयरपोर्ट की सौगात मिलने जा रही है. इसको लेकर ट्रांस गोमती इलाके में नए इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए लखनऊ विकास प्राधिकरण ने बैठक कर कमिश्नर के सामने नया प्रस्ताव पेश किया. इस प्रस्ताव में कुर्सी रोड के पास नया इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने का प्रस्ताव रखा गया है. 

इसके बनने के बाद अमेरिका समेत अन्य विदेश के देशों से सीधा कनेक्टिविटी बन जाएगी. नए एयरपोर्ट के लिए कुर्सी रोड के पास 6 हजार एकड़ जमीन चिन्हित की गई है जिसमें जल्द ही नए इंटरनेशनल एयरपोर्ट का निर्माण किया जाएगा.

अलीगंज ज्वैलर्स लूट का खुलासा, गहनों के साथ दो आरोपी अरेस्ट, दो अभी भी फरार

लखनऊ में हो जाएंगे दो एयरपोर्ट

लखनऊ में देश के अन्य शहरों की तरह दो एयरपोर्ट होंगे. अभी लखनऊ में अमौसी एयरपोर्ट घरेलू उड़ानों के लिए है लेकिन नया एयरपोर्ट सिर्फ इंटरनेशल उड़ानों के लिए उपयोग किया जाएगा. साथ ही अमौसी एयरपोर्ट को भी विकसित किया जा राह है जिससे घरेलू उड़ानों की भी कनेक्टिविटी में सुधार होगा.

नए एयरपोर्ट का रनवे होगा 5 किमी के करीब

बैठक में प्रस्ताव पेश करते हुए बताया गया कि अमौसी का एयरपोर्ट रनवे 2.74 किमी है जिसमें अमेरिका और यूरोप के बढ़े जहाज नहीं उतर सकते हैं, इसलिए नए एयरपोर्ट में इस बात को ध्यान रखते हुए रनवे 4.7 किमी के करीब होगा. जिसके लिए कुर्सी रोड के पास जगह चिन्हित की गई है. साथ ही बीकेटी एयरफोर्स बेस स्टेशन की वजह से इस इलाके को चुना गया है क्योंकि यहां सभी मानक पूरे हो रहे हैं जो एयरपोर्ट के लिए आवश्यक है.

भारत में बैन हो तबलीगी जमात, दिल्ली निजामुद्दीन मरकज की बिल्डिंग करें सील: VHP

बैठक में इन प्रस्तावों पर भी हुई चर्चा

बैठक में मेट्रो के दूसरे चरण को आसान परिवहन के लिए जल्द शुरू करने, ग्रीन कॉरिडोर को किसान पथ से जोड़ने और नए फ्लाईओवर बनाने के साथ चल रही योजनाओं में बढ़ती आबादी के साथ बदलाव को लेकर चर्चा हुई.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें