गोरखपुर: दो दिवसीय दौरे पर CM योगी, महंत अवेद्यनाथ की श्रद्धाजंलि सभा में शामिल

Smart News Team, Last updated: 05/09/2020 02:09 PM IST
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिन के गोरखपुर दौरे पर आज दोपहर जाएंगे. इस दौरान मंहत दिग्विजयनाथ और महंत अवेद्यनाथ के श्रद्धांजलि समारोह में शामिल होंगे. सोमवार को लखनऊ वापसी आने का कार्यक्रम है.
गोरखपुर: दो दिवसीय दौरे पर CM योगी, महंत अवेद्यनाथ की श्रद्धाजंलि सभा में शामिल

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज से दो दिन के गोरखपुर का दौरे पर रहेंगे. वह ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ के श्रद्धांजलि सभा में शामिल होंगे. इसके बाद मंदिर में चल रही संगतमयी रामकथा में भी शामिल होकर कथा का समापन करेंगे. रविवार को सीएम योगी ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ के श्रद्धांजलि सभा में भी शामिल होंगे. सोमवार को लखनऊ वापसी आने का कार्यक्रम है. मंदिर के कार्यालय प्रभारी वीरेंद्र सिंह ने कहा है कि ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ एवं अवेद्यनाथ की पुण्यतिथि के अवसर पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर बचाव कार्य की भी समीक्षा करेंगे. गोरखपुर की बात करें तो कोरोना संक्रमितों की संख्या 10 हजार पार हो गई है. शुक्रवार रात तक के आंकड़ों के अनुसार अब तक गोरखपुर में कुल 10210 लोग संक्रमित हो चुके हैं और 138 की मौत हो चुकी है। 7089 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. 2983 सक्रिय रोगी हैं.

अयोध्या को वर्ल्ड क्लास बनाने का CM योगी का मास्टरप्लान, विश्व स्तर पर प्रचार

वहीं उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को 6193 नए कोरोना के मामले आए हैं. सितंबर में इतनी बड़ी संख्या में कोविड-19 संक्रमित आने का यह पहला मामला है. इससे पहले 30 अगस्त को कोरोना के 6233 नए केस आए थे, जो एक दिन में मिले केस की सर्वाधिक संख्या थी. इसके साथ ही राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या अब बढ़कर दो लाख 53 हजार से अधिक हो गई है. यूपी में इन संक्रमितों में एक लाख 90 हजार 818 लोग ठीक हो गए हैं.

सीएम योगी ने दिए कोरोना संक्रमण की रोकथाम के निर्देश, अधिकारी करें विशेष प्रयास

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 30 अगस्त को भी दिन के दौरे पर गोरखपुर गए थे. इस समय सीएम योगी ने सर्किट हाउस में सांसद व विधायकों के साथ बैठक करी थी और सभी विधायक व सांसदों से संवाद करने के बाद मीडियाकर्मियों से बातचीत की थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें