लखनऊ नगर निगम के 3 वर्ष होने पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने पार्षदों को पढ़ाया पाठ

Smart News Team, Last updated: 12/12/2020 07:16 PM IST
लखनऊ नगर निगम सदन के तीन वर्ष पूरे होने पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने आए हुए पार्षदों को काफी कुछ सीख दी. इस अवसर पर सूबे के कई मंत्री उपस्थित रहे. साथ ही महापौर संयुक्ता भाटिया भी मौजूद रहीं. 
(तस्वीर: आशुतोष टंडन ट्विटर)

लखनऊ: नगर निगम लखनऊ के तीन वर्ष पूरे होने पर रखे गए कार्यक्रम में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने शिरकत कर पार्षदों को आइना दिखाने का काम किया. उन्होंने इस क्रम में बताया कि आपके लिए नल, गटर और रोड के अलावा भी कुछ ऐसे जनहित से जुड़े काम हैं. जिन्हें आप बिना खर्च के कर सकते हैं. इस अवसर पर आयोजन में जलशक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह और राज्य मंत्री स्वाति सिंह भी मौजूद रहीं. वहीं, महापौर ने पहुंचकर अपने तीन साल के अनुभव साझा किए.

राज्यपाल ने बताया कि अस्पताल में आप अस्पताल में जाकर वहां की व्यवस्था जांच सकते हैं. इसके साथ ही आंगनबाड़ी में कुपोषित बच्चों के लिए भी काम करें. इनके अलावा पार्षदों से गर्वनर ने आग्रह किया कि आप गर्भवती महिलाओं को केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं दिलवाने का काम कीजिए. 

इन बातों के साथ ही राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने पार्षदों को बताया कि अगर प्राइमरी स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई को लेकर कोई कमी या फिर, दिक्कत आती है तो उन्हें भी आप जाकर देख सकते हैं. इस कड़ी में आप समस्या को हल करने का भी प्रयास कर सकते हैं. उन्होंने अपनी बातों को पूरा करते हुए बताया कि आपके इन कामों के जरिए जनता को सीधे लाभ पहुंचेगा.

CM योगी ने VC के जरिए 18 आवासीय व अनावासीय भवनों का किया लोकार्पण

नगर निगम के इस आयोजन में नगर निगम विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने म्युनिसिपल बांड की उपलब्धियां भी गिनाई. इनके अलावा कार्यक्रम में उपस्थित महापौर संयुक्ता भाटिया ने पूरे तीन साल में हुए कामों के बारे में बातें रखी. इस दौरान प्रदेश सरकार में जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह और राज्यमंत्री स्वाति सिंह भी मौजूद रहीं.

CM योगी आदित्यानाथ को तीसरी बार मिली जान से मारने की धमकी, आरोपी आगरा से अरेस्ट

31 मार्च तक अगर PAN-Aadhar लिंक नहीं किया तो, हो सकता है 10 हजार का जुर्माना

योगी सरकार के ‘ऑपरेशन नेस्तनाबूत’ का खौफ! MLA विजय मिश्रा ने कॉम्प्लेक्स गिरवाया

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें