होम आइसोलेटेड मरीजों के बेहतर इलाज पर अधिकारी दे रहे जोर, घर जाकर किया निरीक्षण

Smart News Team, Last updated: 02/05/2021 01:25 PM IST
  • होम आइसोलेटेड मरीजों के बेहतर इलाज पर जोर देने के लिए अधिकारी घर-घर जाकर व्यवस्थाओं का निरीक्षण कर रहे है. इसी क्रम में शनिवार को प्रभारी अधिकारी रोशन जैकब ने राजाजीपुरम एवं डीएम अभिषेक प्रकाश ने आलमबाग क्षेत्र में जाकर दौरा किया. साथ ही मरीजों को समय पर दवा किट उपलब्ध कराने का भी निर्देश दिया.
होम आइसोलेटेड मरीजों के बेहतर इलाज पर अधिकारी दे रहे जोर, घर जाकर किया निरीक्षण

लखनऊ. राजधानी लखनऊ में कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज होम आइसोलेशन में बेहतर तरीके से किए जाने पर जोर दिया जा रहा है. इसके लिए शनिवार को जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने आलमबाग और प्रभारी अधिकारी डॉ. रोशन जैकब ने राजाजीपुरम क्षेत्र में जाकर होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों से मुलाकात की. जिसके बाद दोनों अधिकारियों ने निर्देश दिया कि घरों में दवा किट वितरण की व्यवस्था समेत अन्य व्यवस्थाओं को दुरुस्त किया जाए. साथ ही कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग में कोई लापरवाही न बरतने को भी कहा.

डीएम अभिषेक प्रकाश ने नगरीय समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आलमबाग का दौरा करने के दौरान निर्देश दिया कि जो रैपिड रिस्पॉन्स टीमें होम आइसोलेटेड मरीजों का वेरिफिकेशन कर रहीं हैं वे उनका डाटा, वेरिफिकेशन स्टेटस आदि लॉगिन पर फीड करें. जिससे उसकी ऑनलाइन मॉनिटरिंग की जा सके. इसके अलावा उन्होंने वैक्सीनेशन सेंटर व टेस्टिंग सेंटर का भी निरीक्षण किया. साथ ही वैक्सीन लगवाने वाले लोगों से बातचीत करके उनके उत्साह को बढ़ाया और वैक्सीन लगवाने के लिए अपने परिचितों को भी जागरूक करने को कहा.

योगी सरकार गांवों में पहुंचाएगी रोजगार, कई शहरों में बनेगा इंडस्ट्रियल पार्क

वहीं राजाजीपुर में दौरे के लिए पहुंची प्रभारी अधिकारी डॉ. रोशन जैकब ने होम आइसोलेटेड मरीजों को समय से दवा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया. उन्होंने इसके लिए वीकेंड लॉकडाउन के समय का इस्तेमाल करने को कहा. साथ ही कंटेनमेंट जोन में घरों की बैरिकेडिंग करने को भी कहा. इसके अलावा उन्होंने सीएचसी का निरीक्षण किया और वहाँ पर कोविड टेस्टिंग की दो यूनिट लगाने एवं इसकी जानकारी के लिए फ्लैक बोर्ड लगाने को कहा. साथ ही सीएमओ को निर्देश दिया कि आरटीपीसीआर के माध्यम से अधिक से अधिक कोविड टेस्ट किए जाएं. इसके अलावा टीम के अच्छे कार्यों के लिए उन्हें प्रशस्ति पत्र देने का भी निर्देश दिया.

UP के हर जिले के दो सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर 20 ऑक्सीजन कंसट्रेटर लगेंगे

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें