लखनऊ PGI का एपेक्स ट्रामा सेंटर सोमवार से शुरू, इमरजेंसी व ओपीडी के मरीजों को मिलेगी सेवाएं

Mithilesh Kumar Patel, Last updated: Mon, 8th Nov 2021, 12:07 AM IST
  • लखनऊ PGI का एपेक्स ट्रामा सेंटर सोमवार से इमरजेंसी व ओपीडी मरीजों की सेवाओं के लिए खुलने जा रहा है. इससे पहले वहां पिछले 18 महिनों से कोविड मरीजों का इलाज हो रहा था जिसे अब पुरानी बिल्डिंग में शिफ्ट कर एक बार फिर ट्रामा मरीजों के लिए खोल दिया गया है.
लखनऊ संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल साइंस इंस्टीट्यूट PGI एपेक्स ट्रॉमा सेंटर

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में संचालित संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल साइंस इंस्टीट्यूट (PGI) का एपेक्स ट्रॉमा सेंटर सोमवार से एक बार फिर इमरजेंसी व ओपीडी मरीजों के लिए खुलने जा रहा है. पीजीआई डायरेक्टर डॉ. आरके धीमन ने बताया कि ट्रामा सेंटर के संचालन की मंजूरी दे दी गई है. उन्होंने बताया कि यहां बने कोविड अस्पताल को पुरानी बिल्डिंग में शिफ्ट कर दिया गया. ट्रामा सेंटर में इमरजेंसी, जनरल वार्ड, ICU समेत आपरेशन थियेटर तैयार किया जा रहा है. इसके आलावा यहां पैथालॉजी, एक्सरे, अल्टा साउण्ड, सिटी स्कैन की सुविधा उपलब्ध है.

इसके खुलने से इमरजेंसी के मरीजों की भर्ती के साथ-साथ ओपीडी सेवाएं शुरू हो जाएंगी और फिर इस ट्रामा सेंटर में मरीजों को इमरजेंसी व आपरेशन की सुविधा चौबीसों घंटे मुहैया हो सकेगी. बताया जा रहा है कि ट्रामा सेंटर की सेवाएं मिलने से यहां फ्रैक्चर, हेड इंजरी व सभी प्रकार की आपरेशन हो सकेगी. इलाज करवाने वाले मरीजों के लिए इस सेंटर में आर्थो, जनरल सर्जन, न्यूरोसर्जन समेत दूसरे जरूरी विभाग के डॉक्टरों की तैनाती कर दी गई है. इसके बावजूद भी और डाक्टरों की जरूरत पड़ी तो PGI से विशेषज्ञों की मदद ली जाएगी.

UP के इन शहरों का सफर घंटों से मिनटों में बदलेगा पूर्वांचल एक्सप्रेस, इस दिन उद्घाटन

लंबे समय बाद खुले एपेक्स ट्रामा सेंटर में मरीजों की भर्ती व उन्हें मेडिकल सेवा मिलेगी. संस्थान के निदेशक डॉ. आरके धीमन बताते हैं कि पहले चरण में 50 बेड पर मरीजों की भर्ती शुरू होगी. इन में इमरजेंसी व ICU के लिए करीब 10 बेड और बाकी जनरल वार्ड की 40 बेड होगी. इसके आलावा 2 आपरेशन थियेटर भी शुरू किए जा रहे हैं. इस ट्रामा सेंटर में पहले की तरह एक बार फिर से ओपीडी सेवाएं मिलेगी. ट्रामा सेन्टर में कुछ में नए ओपीडी सेवाओं की शुरुआत की गई हैं जिनमें शिफ्ट हड्डी रोग विभाग, यूरो सर्जरी, जनरल सर्जरी व दांत चिकित्सा विभाग शामिल है. डॉ. धीमन बताते हैं कि आने वाले दिनों में चरणबद्ध तरीके से ट्रामा सेंटर के सभी 210 बेडों पर एक बार फिर से मरीजों को चिकित्सकीय सेवाएं दी जाएंगी.

गौरतलब हो पिछले साल जब प्रदेश में कोरोना मामलों की संख्या तेजी से बढ़ रही थी तब सूबे की सरकार ने अप्रैल 2020 से एपेक्स ट्रामा सेंटर को राजधानी लखनऊ कोविड अस्पताल में तब्दील कर दिया था. उसके बाद से यहां ट्रामा मरीजों का इलाज होना बंद हो गया था. इस सेंटर के कोरोना सेंटर में तब्दील होने से पहले यहां 210 बेड पर ट्रामा मरीजों को इलाज मिल रहा था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें