मुख्तार के गुर्गों पर कार्रवाई, 11 गिरफ्तार, पिस्टल और बम बनाने का सामान बरामद

Smart News Team, Last updated: 23/09/2020 09:56 AM IST
  • लखनऊ पुलिस की 48 टीमों ने मुख्तार अंसारी के करीबियों को पकड़ने के लिए मंगलवार को 42 ठिकानों पर छापेमारी की. इस दौरान 11 अपराधियों को गिरफ्तारी किया गया और 21 लोगों को हिरासत में लिया गया. छापेमारी में तलाशी के दौरान पिस्टल, बम, गांजा और अफीम मिला.
मुख्तार के गुर्गों पर कार्रवाई, 11 गिरफ्तार, पिस्टल और बम बनाने का सामान बरामद

लखनऊ.  मंगलवार को बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबियों को पकड़ने के लिये लखनऊ कमिश्नरेट ने अब तक की सबसे बड़ी छापेमारी की. इस छापेमारी में 48 टीमों ने 42 ठिकानों पर दबिश दी. इस दौरान हिस्ट्रीशीटर अभिषेक सिंह उर्फ बाबू और आकाश समेत 11 अपराधियों को गिरफ्तारी किया गया. इस कारवाई में 21 लोगों को हिरासत में लिया गया है. हिस्ट्रीशीटर अभिषेक सिंह उर्फ बाबू के घर में तहखाने में छिपाकर रखे गए पिस्टल और बम बनाने का सामान मिला है. अन्य गिरफ्तार लोगों के पास से गांजा, अफीम और मोबाइल फोन मिले हैं.

एडीसीपी दिनेश पुरी ने बताया कि मड़ियांव के हिस्ट्रीशीटर अभिषेक सिंह उर्फ बाबू को विभूतिखंड से पकड़ा गया है. वहां उसके घर में ही बम बनाने का समान मिला है. यह सब सामान घर में बने एक तहखाने में छुपा कर रखा गया था. इसमें तीन पिस्टल और 21 मैंगजीन भी बरामद हुई है.

मुख्तार अंसारी का एक और गुर्गा हिरासत में, कई ठिकानों पर यूपी पुलिस की छापेमारी

यूपी के छह डीसीपी के नेतृत्व में चलने वाली यह दबिश उन अपराधियों के यहां भी दी गई जिनके खिलाफ कई मुकदमे हैं लेकिन फिलहाल जमानत पर बाहर हैं. मंगलवार को पुलिस को जानकारी मिली थी कि मुख्तार के कुछ करीबी वजीरगंज में रहते हैं. इसी जानकारी के आधार पर वहां भी छापेमारी की गई. इस मामले में लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पाण्डेय ने कहा कि हिरासत में लिये लोगों का नाम किसी अपराध में पाया जाता है तो उनको भी गिरफ्तार किया जाएगा. 

मुख्तार अंसारी पर योगी सरकार का का बढ़ता शिकंजा, एक और गुर्गा लखनऊ से गिरफ्तार

गौरतलब है कि मुख्तार अंसारी के साथियों के खिलाफ पुलिस पिछले दो महीने से कार्रवाई कर रही है. बीते सोमवार को ही हुसैनगंज पुलिस ने मुख्तार के एक गुर्गे अतीक अहमद को गिरफ्तार किया था. इसके अलावा शुक्रवार को गाजीपुर शहर कोतवाली ने भी मुख्तार की पत्नी आफ्सा अंसारी, साला सरजील रजा और अनवर शहजाद के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में वारंट जारी किया है. सरकार की कार्रवाई से मुख्तार अंसारी की मुश्किलें लगातार बढ़ती ही जा रही है. इससे पहले पुलिस उसके गिरोह के आर्थिक साम्राज्य पर भी चोट कर चुकी है. पुलिस की कार्रवाई के बाद मुख्तार अंसारी की सालाना करीबन 48 करोड़ रुपए की कमाई भी अब बंद हो चुकी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें