योगी सरकार का बड़ा फैसला, बैंक खाते को आधार से कराएं लिंक तभी मिलेगी स्कॉलरशिप

Smart News Team, Last updated: Sat, 27th Feb 2021, 11:07 PM IST
  • यूपी में छात्रों को मिलने वाली स्कॉलरशिप में बदलाव किए गए हैं जिसमें छात्रवृत्ति सीधे बैंक खाते में जाएगी वहीं अनुसूचित जाति के 10वीं के ऊपर की कक्षाओं एवं एमबीए, नर्सिंग, मेडिकल जैसे व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के विद्यार्थियों को इस साल दो किस्तों में छात्रवृत्ति मिलेगी. जिसमें छात्रवृत्ति का 40 फीसदी हिस्सा राज्य सरकार देगी और 60 फीसदी हिस्सा केंद्र सरकार देगी.
इस साल यूपी में एससी छात्रों को दो किस्तों में मिलेगा पोस्ट मेट्रिक स्कॉलरशिप

लखनऊ: राज्य में 10वीं से उपर की कक्षाओं में पढ़ने वाले एससी व एसटी के सभी छात्र छात्राओं को सरकार की तरफ से दी जाने वाली छात्रवृत्ति दो हिस्सों में दी जाएगी. समाज कल्याण विभाग के सहायक निदेशक सिद्धार्थ मिश्र ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि ऐसा प्रावधान सिर्फ इस वर्ष के लिए किया जा रहा है. जिसमें विद्यार्थियों को मिलने वाली छात्रवृत्ति या शुल्क प्रतिपूर्ति का 40 फीसदी हिस्सा राज्य व्यय करेगा एवं 60 फीसदी हिस्सा केन्द्र व्यय करेगा. इस सत्र में लगभग संख्या 9 लाख 82 हजार 56 एससी व एसटी वर्ग के विद्यार्थियों ने छात्रवृत्ति के लिए आवेदन किया हैं. इनमें से अब तक 3.5 लाख छात्र-छात्राओं के प्रोफाइल का समाज कल्याण विभाग से सत्यापन किया जा चुका है. 

आवेदन करने वाले विद्यार्थियों में 10वीं कक्षा के ऊपर के वे सभी विद्यार्थी शामिल हैं जो कि स्नातक, परास्नातक, एमबीए, इंजीनियरिंग, नर्सिंग, मेडिकल आदि व्यावसायिक कोर्स में पढ़ रहे हैं. इसके साथ ही जिनके परिवार की कुल आय सरकार के मानक के अनुसार कम है. इन सभी छात्रों के सत्यापन के बाद प्रदेश समाज कल्याण विभाग फीस का 40 प्रतिशत हिस्सा सीधे छात्रों के बैंक खातों में भेजेगा. सरकार ने हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी छात्रवृत्ति के लिए हजारों करोड़ का बजट आवंटित किया है.

पंचायत चुनावः रोटेशन नीति से UP के ये गांव हो सकते हैं SC या OBC के लिए आरक्षित

वहीं केन्द्र सरकार पूरे ब्यौरे के बाद छात्रों की 60 प्रतिशत राशि उनके बैंक खातों में भेजेगी. इन सभी छात्रों की जानकारी एनआईसी एपीआई के जरिये ऑनलाइन केन्द्र सरकार को भेजी जाएगी. यह व्यवस्था सिर्फ इस वर्ष के लिए रखी गई है. अगले वर्ष से केन्द्र खुद इन विद्यार्थियों के बैंक खातों में अपने 60 प्रतिशत केन्द्रांश की छात्रवृत्ति और फीस भरपाई की धनराशि भेज दिया करेगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें