लखनऊ: बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन पर कोरोना पॉजिटिव मिले तो अस्पताल में होंगे भर्ती

Smart News Team, Last updated: Sat, 22nd May 2021, 9:32 PM IST
लखनऊ के रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर यात्रियों का एंटीजन कोरोना टेस्ट किया जाएगा. जिन भी यात्रियों का एंटीजन रिपोर्ट पॉजिटिव आएगा उनको प्रशासन उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती करेगा. लखनऊ शहर के रहने वाले यात्रियों को होम आइसोलेशन में रखा जाएगा.
एंटीजन रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर यात्रियों को तुरंत अस्पताल में भर्ती किया जाएगा. (प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ : लखनऊ शहर में कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए स्थानीय प्रशासन ने अब लखनऊ के बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर यात्रा कर रहे यात्रियों की कोरोना की जांच करके रिपोर्ट के आधार पर उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती करने का निर्णय लिया है. मेडिकल की टीम बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर यात्रियों का एंटीजन टेस्ट करेगा. रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर अगर यात्री लखनऊ शहर का रहने वाला होगा तो उसे घर पर एंबुलेंस से भेज कर होम आइसोलेशन में रखा जाएगा. 

कोरोना की दूसरी लहर के बाद कई राज्यों ने ट्रेन से सफर करने वालों के लिए राज्यों में प्रवेश के लिए जांच की रिपोर्ट के बिना प्रवेश पर रोक है. कई रेलवे स्टेशनों पर यात्रा करने वाले यात्रियों के कोरोना जांच की संख्या को बढ़ा दिया गया है.एंटीजन रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर यात्री को हॉस्पिटल भेजने के पीछे यह उद्देश है कि जहां पहले रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर यात्रियों के किए गए एंटीजन टेस्ट के रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उनकी सारी डिटेल्स लेने के बाद उनको वापस उनके घर भेज दिया जाता था. 

लखनऊ में कोरोना हुआ धीमा तो ब्लैक फंगस ने पकड़ी रफ्तार, जानें फुल अपडेट

बाद में उनके सारे डिटेल्स को स्थानीय जिला के सीएमओ को भेज दिया जाता था. जहां सीएमओ उस संक्रमित मरीज का आरटी पीसीआर जांच करने के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर. मरीज से संपर्क में आए सभी लोगों के जांच को करते थे. इस इस पूरी प्रक्रिया के दौरान संक्रमण और अधिक फैलने का खतरा बढ़ जाता था.

होम आइसोलेशन में कोरोना मरीज के इलाज का क्लेम नहीं दे रहीं बीमा कंपनियां, जानें

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें