बारिश ने खोल दी लखनऊ स्मार्ट सिटी की पोल, महज 2 महीने में ही करोड़ों रुपये खर्च कर बनाई सड़क धंसी

Ankul Kaushik, Last updated: Sat, 18th Sep 2021, 5:20 PM IST
  • उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हुई बारिश ने स्मार्ट सिटी के दावों की पोल खोल कर रख दी है. बारिश की वजह से लखनऊ की सड़कें धंस गई हैं और हैरानी की बात ये है कि करोड़ों रुपये खर्च करके बनीं सड़क दो महीने भी नहीं टिक पाई हैं.
लखनऊ में बारिश से हुए जलभराव के कारण सड़क धंसी

लखनऊ. राजधानी लखनऊ में हुई भारी बारिश के पानी से शहर की कई सड़कों पर जलभराव हो गया है. इस पानी की वजह से कई सड़कों की हालत खराब है और इसके साथ ही बारिश ने योगी सरकार की स्मार्ट सिटी के सभी दावों की पोल भी खोल दी है. शहर में हुई बारिश की वजह से दो महीने पहले करोड़ों रुपये खर्च कर स्मार्ट सिटी योजना के तहत बनाई गईं सड़क जमीन में धंस गई हैं. इन सड़कों में कई फुट के लंबे और चौड़े गड्डे हो गएं है जिसे नगर निगम भराने का काम कर रहा है. जमीन में धंसी सड़कों ने ठेकेदारों के सड़क के निर्माण के लिए दी गई मानक सामग्री पर सवाल खड़े कर दिए हैं. क्योंकि सड़क धंसने का मुख्य कारण यही है कि ठेकेदारों ने मानक अनुसार निर्माण सामग्री इस्तेमाल नहीं की है और बारिश की वजह से यह सड़क धंसी हैं.

बारिश की वजह से वैसे तो शहर की सड़क खराब हैं लेकिन प्रेस क्लब के सामने और उसके बगल से फैमिली कोर्ट की तरफ जाने वाले वाली सड़क कई जगह से धंस गई है. वहीं जिस जल निगम ठेकेदार को यह सड़क ठीक करानी थी वह भाग गायब है और इस वजह से नगर निगम के अभियंता सतीश रावत को नगर आयुक्त ने गड्ढे को मलवा डलवाकर भरने का आदेश दिया है.

लखनऊ में रिकॉर्ड तोड़ बारिश के बीच कठौता झील की दीवार टूटी

इसके साथ ही शहर में त्रिलोक नाथ और भोपाल हाउस रोड जगह-जगह धंसी गई है जो पुराना हाईकोर्ट से डीएम कार्यालय तक के रास्ते को भी जोड़ती है. वहीं बारिश से हुए जलभराव के कारण लालबाग और कैसरबाग में सड़क की हालत भी काफी खराब है और इसलिए बस स्टैंड जाने वाले लोगों के उखड़ी हुई बजरी के उपर से निकलना पड़ रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें