हेलमेट ना पहनने पर कार का चालान और ट्रैफिक पुलिस ने कुछ गलत भी नहीं किया, पढ़ें

Smart News Team, Last updated: 10/06/2021 10:51 AM IST
  • लखनऊ में ट्रैफिक पुलिस ने एक कार ड्राइवर का हेलमेट न पहनने के मामले में 500 रुपये का चालान काट दिया. बाद में जांच में पता चला कि कार का नंबर बाइक पर लिखकर कोई चला रहा है. चालान बाइक वाले का कटा लेकिन चालान रसीद कार मालिक को पहुंची.
लखनऊ में ट्रैफिक पुलिस ने कार ड्राइवर का हेलमेट न पहनने के लिए चालान काट दिया.(फाइल फोटो)

लखनऊ. यूपी पुलिस ने कार ड्राइवर का हेलमेट न पहनने के मामले में 500 रुपये का चालान काट दिया. ये पढ़ कर आपके होश उड़ गए होंगे! दरअसल, ट्रैफिक पुलिस ने बाइक वाले का ही हेलमेट न पहनने के लिए चालान काटा, मगर बाइक की नंबर प्लेट पर जो नंबर लिखा है वह कार का है न कि बाइक का. इसमें ट्रैफिक पुलिस की गलती नहीं बल्कि वाहन नंबर प्लेट बदलकर धोखाधड़ी करने वालों का हाथ है. नंबर क्लोनिंग के इस केस से पुलिस भी सकते में है कि लोग या तो ट्रैफिक चालान से बचने के लिए किसी और की गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नम्बर लगा रहे हैं या फिर इस तरह की बाइक्स से क्राइम को अंजाम दे रहे हैं.

लखनऊ निवासी प्रदीप श्रीवास्तव के घर पर मंगलवार को बाइक चालान की रसीद पहुंची तो हैरान रह गए. उनकी कार के नंबर पर बाइक का चालान कटा. चालाना रसीद में भी दिख रही फोटो बाइक की थी. यह चालान 5 मई 2020 को रकाबगंज के पास काटा गया था. जांच में पता चला कि कार का नंबर बाइक पर लिखकर कोई चला रहा है.

लखनऊ में सरेराह प्रॉपर्टी डीलर को मारी गोली, हालत गंभीर, आरोपी फरार

कार मालिक प्रदीप श्रीवास्तव ने बताया कि उनके पास बाइक नहीं है ऑल्टो कार है, जिसका नंबर यूपी 32 एफजेड 0773 है. इस नंबर को कोई दो पहिया वाहन पर लिखवाकर चला रहा है. ऐसे में अगर कोई घटना होती है तो उसके लिए कौन जिम्मेदार होगा. इस संबंध में प्रदीप श्रीवास्तव ने आरटीओ को पत्र लिखकर बाइक सवार को पकड़ने और चालान रद्द करने का अनुरोध किया है. बता दें कि चालान रसीद कार मालिक के घर पर एक साल बाद पहुंची.

पेट्रोल डीजल 10 जून का रेट: लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, आगरा, मेरठ, गोरखपुर, प्रयागराज में नहीं बढ़े तेल के दाम

वहीं, आरटीओ प्रशासन आरपी द्विवेदी ने बताया कि हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट इसलिए हर वाहन के लिए जरूरी कर दिया गया है, ताकि वाहन के नंबरों के साथ कोई छेड़छाड़ न कर सके. उन्होंने बताया कि यही नहीं इससे कोई भी नंबर बदलकर वाहन नहीं चला पाएगा, क्योंकि हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट को इसी तरह डिसाइन किया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें