लखनऊ विवि ने की नकल पर रोक की पूरी तैयारी, बीएड प्रवेश परीक्षा पर रखेंगे नजर

Smart News Team, Last updated: Wed, 21st Jul 2021, 9:20 AM IST
  • 30 जुलाई को होने वाली बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा में नकल लगाने के लिए लखनऊ विश्वविद्यालय ने पूरी तैयारी कर ली है.
लखनऊ विश्वविद्यालय

30 जुलाई को होने वाली बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा में नकल पर रोकने के लिए पूरी तैयारी कर ली है. इस मामले में लखनऊ विश्वविद्यालय में बैठक हुई है, जिसमें इस बात को लेकर चर्चा हुई. बीएड की प्रवेश परीक्षा 75 जिलों में आयोजित होनी है. हर चीज पर नजर रखने के लिए हाइटेक निगरानी की सेंटर बनाया गया है. यहीं से जिले के परीक्षा केंद्र में नजर रखी जाएगी. संयुक्त प्रवेश परीक्षा बीएड 2021 की राज्य समन्वयक प्रो. अमिता बाजपेयी ने बताया कि इस बार की परीक्षा कोरोना की गाइडलाइन का पूरा ध्यान रखा जाएगा.

इसके अलावा अनुचित साधनों के प्रयोग पर अंकुश लगाने की भी पूरी तैयारी कर ली गयी गई है. परीक्षा केंद्रो पर निगरानी रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. इसके साथ ही राउटर आदि की समुचित व्यवस्था की जा रही है. सभी परीक्षा-केन्द्रों पर नियन्त्रण रखने के लिए लखनऊ विश्वविद्यालय एक कंट्रोल रूम भी तैयार किया जाएगा. इस कंट्रोल रूम 150 कम्प्यूटर लगाये जा रहे हैं.प्रत्येक कम्प्यूटर की सहायता से 10-10 परीक्षा-केन्द्रों पर प्रत्येक अभ्यर्थी की आनलाइन निगरानी करते हुए कड़ी नजर रखी जायेगी.

CTET Exam update: इस दिन से शुरू हो सकते हैं सीटेट परीक्षा के रजिस्ट्रेशन, जानें

इसके साथ ही सभी परीक्षा सेंटर पर फेशियल बायोमैट्रिक सिस्टम की सहायता से उपस्थिति ली जायेगी. कोई अभ्यर्थी किसी दूसरे अभ्यर्थी के स्थान पर परीक्षा न दे सके. प्रो. अमिता बाजपेयी ने बताया कि प्रवेश परीक्षा के दौरान किसी भी स्टूडेंट्स किसी भी शरीर का तापमान नॉर्मल से अधिक होगा तो उसके लिए आइसोलेटेड रूम बनाया गया है वैसे स्टूडेंट्स वहां बैठ कर परीक्षा देंगे. कोरोना के सभी नियमों का पालन करने के सख्त निर्देश दिए गए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें