लखनऊ: गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे के लिए यूपीडा को मिला 500 करोड़ का कर्ज

Smart News Team, Last updated: 05/12/2020 03:11 PM IST
  • गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे गोरखपुर बाईपास एनएच-27 ग्राम-जैतपुर के पास से प्रारम्भ होकर पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर आजमगढ़ में समाप्त होगा. एक्सप्रेसवे की लम्बाई 91.352 किमी है. 91 किलोमीटर लंबे गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए यूपीडा को 5500 करोड़ रुपए का कर्ज मिल चुका है. 
फाइल फोटो

लखनऊ: 91 किलोमीटर बन रहे लंबे गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए रास्ता साफ हो चुका है. प्रदेश सरकार द्वारा अभी तक धन अभाव में इस लिंक एक्सप्रेस वे को मंजूरी नहीं मिल पा रही थी. लेकिन शुक्रवार को यह मामला साफ हो गया.

यानी कि 91 किलोमीटर लंबे गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे का रास्ता साफ हो चुका है.

इसे बनाने वाली यूपीडा कंपनी को 500 करोड रुपए का कर्ज मिल चुका है. इसके अलावा बैंकों के समूह ने मिलकर 300 करोड रुपए का ऋण भी स्वीकृत कर दिया है. धन मिल जाने के बाद अब इसे बनाने का रास्ता साफ हो जाएगा.इस कार्य के लिए एक बैंक कंर्सोशियम के गठन करने की मंजूरी कैबिनेट द्वारा प्रदान की गयी है. इसके तहत यूपीडा को पांच सौ करोड़ का कर्ज दिया गया.इसके तहत शुक्रवार को बैंक ऑफ इंडिया के महाप्रबंधक बृजलाल द्वारा 500 करोड़ रुपये का ऋण स्वीकृति पत्र अवनीश अवस्थी को प्रदान किया गया.

इससे पहले पंजाब नेशनल बैंक द्वारा 750 करोड़, यूको बैंक द्वारा रु 250 करोड़, बैंक ऑफ महाराष्ट्र द्वारा 250 करोड़, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया द्वारा 250 करोड़ और केनरा बैंक द्वारा 300 करोड़ का ऋण स्वीकृत किया गया है.पंजाब नेशनल बैंक द्वारा गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे परियोजना के वित्त पोषण के लिए बनने वाले बैंक कंर्सोशियम का नेतृत्व किया जाएगा.

लखनऊ: 507 NRI ने यूपी में उद्योग लगाने की जताई इच्छा

निर्माण कार्य के लिए 3 वर्षों तक धन का उपयोग करेगी यूपीडा

सम्पूर्ण ऋण राशि तीन वर्षां में यूपीडा द्वारा जरूरत के अनुसार समय-समय पर बैंकों से निकाली जाएगी. ऋण राशि के लिए प्रारम्भिक तौर पर कंर्सोशियम बैंकिंग व्यवस्था के तहत कार्य किया जाएगा लेकिन यूपीडा की परियोजना के कार्य के लिए धनराशि की तात्कालिक आवश्यकता व अन्य बैकों से अंतिम स्वीकृति में लग रहे.समय को ध्यान में रखते हुए पंजाब नेशनल बैंक ने लीड बैंक की भूमिका स्वीकार करते हुए यह सहमति दी है.

सभी बैंकों द्वारा सामान्य रूप से ली जाने वाली अप फ्रंट फीस एवं प्रोसेसिंग फीस यूपीडा के लिए माफ करने की सहमति दी गयी है. इस ऋण का पुर्नभुगतान ऋण की स्वीकृति के दिनांक से 03 वर्ष की मोरेटोरियम अवधि के पश्चात 12 वर्षों में (कुल 15 वर्ष की अवधि में) त्रैमासिक आधार पर 48 किश्तों में किया जाएगा.

गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे गोरखपुर बाईपास एनएच-27 ग्राम-जैतपुर के पास से प्रारम्भ होकर पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर आजमगढ़ में समाप्त होगा. एक्सप्रेसवे की लम्बाई 91.352 किमी है. इस तरह लगभग लाखों की संख्या में लोग इस एक्सप्रेस वे से लाभान्वित होंगे. एनएच 27 से जुड़े हुए गांव के अलावा अन्य शहरों के लोगों भी इसका लाभ उठा सकेंगे. अगले 3 वर्षो बाद गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे पर गाड़ियां फर्राटा भर्ती हुई नजर आएंगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें