लखनऊ: नगर विकास मंत्री ने 57 ई बसों को दिखाई हरी झंडी, मिलेंगी कई सुविधाएं

Smart News Team, Last updated: Sun, 19th Dec 2021, 4:15 PM IST
  • रविवार को नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने 57 ई बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. उन्होंने बताया कि आने वाले नए साल के मौके पर 40 और नई ई बसों का तोहफा आम जनता को दिया जाएगा. इन ई बसों की शुरुआत से आम जनता दस्ते किराए में आराम देने के साथ-साथ काफी सुरक्षित सफर भी कर पाएगी.
लखनऊ: नगर विकास मंत्री ने 57 ई बसों को दिखाई हरी झंडी, मिलेंगी कई सुविधाएं

लखनऊ. अब से राजधानी लखनऊ की सड़कों पर भी ई बड़े दौड़ती नजर आएंगी. रविवार को नगर विकास मंत्री ने रविवार को आशुतोष टंडन ने 57 ई बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. यह कार्यक्रम गोमतीनगर के पॉलिटेक्निक चौराहे पर आयोजित हुआ था जिसमें मंडलायुक्त रंजन कुमार, नगर विकास निदेशक डॉ इंद मणि त्रिपाठी, संयुक्त निदेशक अजीत कुमार सिंह समेत सिटी ट्रांसपोर्ट एमडी पल्लव बोस मुख्य रूप से मौजूद रहे. इस दौरान नगर विकास मंत्री ने बताया कि आने वाले नए साल के मौके पर 40 और नई ई बसों का तोहफा आम जनता को दिया जाएगा.

नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने 57 बसों को हरी झंडी दिखाते हुए कहा कि अब से आम जनता को सस्ते किराए में इलेक्ट्रिक बसों का सफर मुहैया कराया जाएगा. ये ई बसें बस यात्रियों को आराम देने के साथ-साथ काफी सुरक्षित सफर भी करवाएगी. जानकारी अनुसार न्यूनतम 0 से 3 किलोमीटर दूरी के लिए 10 रूपए और अधिकतम 42 किमी सफर करने पर 50 रूपए देकर यात्री इन बसों में आराम से सफर कर सकेंगे. साथ ही बस यात्रियों को लोकल बसों से भी छुटकारा मिलेगा.

 

IFS अफसर के बेटे बीच चौराहे शराब पीकर काटा बवाल, पुलिसवाले से की मारपीट

पैनिक बटन, CCTV, लोकेशन ट्रैक और अग्निशमन ऑटोमेटिक डिवाइस से लैस है ये बस

बता दें कि लखनऊ में शुरू की गई इन ई बसों में आरामदायक यात्रा के साथ साथ पैनिक बटन की भी सुविधा मिलेगी. इस पैनिक बटन की मदद से यात्रियों के मनमर्जी वाले जगह पर बस रुक जाएगी. बस में सीटों के आसपास ये बटन लगाए गए हैं. यात्रियों को जब रूकना होगा तब वे एक तरफ इस पैनिक बटन को दबाएंगे और दूसरी तरफ सिग्नल ड्राइवर तक चला जाएंगा. उसके बाद ड्राइवर बस रोक सकेगा. 

ड्राइवर द्वारा बस स्टार्ट करने के बाद लगे डिस्प्ले में 6 अंक आने पर ही कम्प्रेशर बनेगा, तभी बस आगे बढ़ेगी. इतना ही नहीं यात्रियों की सुरक्षा के लिहाज से बस के अंदर 2 और पीछे 1 सीसीटीवी कैमरा लगे होंगे जो लोकेशन ट्रैकिंग के लिए स्टेयरिंग के पास बोनट पर लगे डिस्प्ले लगातार लोकेशन बताते रहेंगे और ऑनलाइन मानिटरिंग होने के चलते बस सर्विस स्टेशन पर बैठे एक्सपर्ट को बस के हर एक पल की खबर रहेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें