लखनऊ: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर उत्तर प्रदेश में गाइडलाइन्स जारी

Smart News Team, Last updated: 15/08/2020 08:27 AM IST
  • यूपी सरकार ने कहा देश में कोरोना महामारी का दौर है.ऐसे में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर कोई मानव श्रृंखला नहीं बनाई जाए. लखनऊ के शिक्षण संस्थानों में भी केंद्र और राज्य सरकार की ओर से कोरोना से बचाव को लेकर जारी गाइडलाइन्स का पूरी तरह सख्ती से पालन किया जाए. ऑनलाइन ही स्वतंत्रता दिवस मनाया जाए.
लखनऊ: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर उत्तर प्रदेश में गाइडलाइन्स जारी

लखनऊ. कोरोना के चलते इस बार लखनऊ में स्वतंत्रता दिवस मनाने को लेकर गाइडलाइन्स जारी की गई है. गाइडलाइन्स जारी करते हुए उत्तरप्रदेश के मुख्य सचिव आरके तिवारी ने कहा कि गृह मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुसार स्वतंत्रता दिवस की सुबह 9 बजे राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा. इसके बाद केवल राष्ट्रगान होगा. मुख्य सचिव ने यह भी कहा कि देश में कोरोना महामारी का दौर चल रहा है. ऐसे में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर कोई मानव श्रृंखला नहीं बनाई जाए. शिक्षण संस्थानों में भी केंद्र और राज्य सरकार की ओर से कोरोना से बचाव को लेकर जारी गाइडलाइन्स का पूरी तरह सख्ती से पालन किया जाए.

जारी दिशानिर्देश में यह भी कहा गया है कि इस मौके पर छात्रों को ऑनलाइन माध्यम से संक्षेप में स्वतंत्रता के लिए हुए संग्राम का इतिहास बताया जाए. इसके अलावा छात्रों को देश के लिए शहीद हुए देशभक्तों के बारे में बताया जाए और किसी तरह की सभा आयोजित नहीं की जाए.

लखनऊ: CM योगी के आदेश के बाद STF टीम ने शुरू की स्मार्ट मीटर डिस्कनेक्शन की जांच

इसके अतिरिक्त मुख्य सचिव ने यह भी कहा कि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर कोरोना वॉरियर्स को ऑनलाइन कार्यक्रमों में आमंत्रित किया जाए. जो लोग इस महामारी से ठीक हो गए हैं उन्हें भी ऑनलाइन माध्यम से जोड़ा जाए. इस अवसर पर प्रधानमंत्री के भारत को आत्मनिर्भर बनाने के संदेश को भी लोगों के बीच व्यापक प्रचारित किया जाए.

लखनऊ: कोरोना महामारी के बीच डेंगू का कहर, 50 से ज्यादा लोग चपेट में आए

मुख्य सचिव आरके तिवारी ने कहा कि राष्ट्रीय ध्वज के बारे में लोगों को ऑनलाइन माध्यम से बताया जाए. ब्लॉक, तहसील और जिला स्तर पर होने वाले कार्यक्रमों को कोविड गाइडलाइन्स का पालन करते हुए ही आयोजित किया जाए. इसके अलावा विकास संबंधी प्रशासन की योजनाओं के बारे में भी लोगों को ऑनलाइन बताएं और उनसे सहयोग की भी अपील करें.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें