लखनऊ: मऊ में मुख्तार अंसारी की पत्नी और बेटे के अवैध कब्जे पर चला बुलडोजर

Smart News Team, Last updated: Sun, 30th Aug 2020, 9:51 AM IST
  • योगी आदित्यनाथ सरकार ने लगातार दूसरे दिन मुख्तार अंसारी के अवैध कब्जे पर कार्रवाई की है. मऊ में मुख्तार अंसारी की पत्नी और बेटे के अवैध कब्जे पर बुलडोजर चलाया गया. 
लखनऊ: मऊ में मुख्तार अंसारी की पत्नी और बेटे के अवैध कब्जे पर चला बुलडोजर

लखनऊ. बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के खिलाफ यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने दूसरे दिन लगातार कार्रवाई की. मऊ में दक्षिण टोला थाना क्षेत्र के ग्राम सभा रैनी स्थित एफसीआई रेंज के गोदाम के आसपास की जमीनों पर कार्रावाई के तहत बुलडोजर चलाया गया. इन जमीनों पर मुख्तार अंसारी की पत्नी व साले द्वारा चहारदीवारी का निर्माण करके वर्षों से अवैध कब्जा किया हुआ था. जिसे सरकार ने बुल्डोजर लगाकर मुक्त कराया.

इससे पहले गुरुवार कोलखनऊ के डालीगंज स्थित मुख्तार अंसारी के अवैध निर्माण को ढाया गया था. एलडीए और पुलिस प्रशासन समेत अवैध निर्माण को गिराने में 20 से ज्यादा जेसीबी लगी थीं. मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास व उमर अंसारी के अवैध टॉवर गिराए गए थे. वहीं शनिवार को अवैध कब्जा हटाने की पूरी कार्रवाई जिलाधिकारी ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी व पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सोनकर की देखरेख में हुआ. 

लखनऊ में बड़ी कार्रवाई, मुख्तार अंसारी के अवैध निर्माण पर चला LDA का जेसीबी

जिलाधिकारी ने बताया कि मुख्तार अंसारी की पत्नी व साले ने ग्राम सभा की जमीन व अनुसूचित जाति के लोगों की जमीन पर बिना किसी परमिशन के अवैध कब्जा किया था. उन्होंने अनुसूचित जाति के लोगों की जमीनों को तत्कालीन जिलाधिकारी द्वारा बिना परमिशन के अवैध कब्जा किया था. जिलाधिकारी ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि 33 एयर जमीन एससी/एसटी लोगों की थी. इस सम्बंध में पूर्व में मुकदमा पंजीकृत था. जिस पर मुख्तार अंसारी की पत्नी द्वारा बिना तत्कालीन जिलाधिकारी के आदेश से अवैध कब्जा कर लिया था. इसकी कीमत लाखों में है.

मुख्तार अंसारी और दो बेटों पर केस दर्ज, इमारत ढहाने का खर्च वसूलेगी योगी सरकार

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें