पति ने पहले मुस्लिम बनाया फिर भाग गया सऊदी, पत्नी ने विधानसभा के सामने लगा ली आग

Smart News Team, Last updated: 13/10/2020 04:59 PM IST
  • महाराजगंज की एक महिला ने लखनऊ विधानसभा के सामने खुद को आग के हवाले कर दिया. मौके पर मौजूद हजरतगंज थाने की पुलिस ने उसे अस्पताल पहुंचाया. 
महिला को अस्पताल ले जाते पुलिसकर्मी

लखनऊ. धर्म परिवर्तन की शिकार महाराजगंज की एक पीड़ित महिला ने कहीं पर सुनवाई ना होने पर राजधानी लखनऊ में विधानसभा के सामने और बीजेपी कार्यालय के पास आत्मदाह की कोशिश की. किसी तरह मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने महिला की आग बुझाई और अस्पताल में भर्ती कराया. महिला की हालत नाजुक है.

आत्मदाह की कोशिश करने वाली महिला का नाम अंजना तिवारी बताया जा रहा है जिसका पति आशिक रजा सऊदी में रहता है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पहले उसकी शादी किसी अखिलेश तिवारी नाम के शख्स से हुई थी लेकिन संबंध ठीक ना होने की वजह से तलाक हो गया.

लखनऊ में विधानसभा के बाहर महिला ने खुद को आग लगाई, अस्पताल में भर्ती, हालत गंभीर

अखिलेश से तलाक के बाद महिला की दोस्ती एक आशिक नाम के मुस्लिम युवक से हो गई. धीरे-धीरे बात प्यार तक पहुंची और दोनों ने शादी कर ली. इस दौरान महिला ने अपने प्रेमी के लिए मुस्लिम धर्म कबूल कर लिया. इस्लामिक तरह ही उसका नाम भी बदल दिया गया.

लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश के बाद हजरतगंज में औरतों की कड़ी पुलिस चेकिंग

शादी के बाद आशिक रजा सऊदी चला गया और यहां महिला उसके परिवार के साथ रहने लगी. कुछ ही दिनों में ससुराल के लोगों ने उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया. जब पुलिस से उसने मदद मांगी तो कोई कार्रवाई नहीं हुई जिसके बाद तंग होकर पीड़िता ने खुद को आग के हवाले कर दिया.

फिलहाल महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम की निगरानी में इलाज चल रहा है. डॉक्टरों का कहना है कि महिला का शरीर 90 फीसदी तक जल चुका है. महिला ने मिट्टी का तेल छिड़क कर आत्मदाह का प्रयास किया था जिसमें उसका चेहरा, हाथ, पैर, पेट और पीठ समेत सारा शरीर आग की लपटों में झुलस गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें