शहीद जनरल बिपिन रावत के नाम पर होगा मैनपुरी सैनिक स्कूल, CM योगी का फैसला

Jayesh Jetawat, Last updated: Thu, 6th Jan 2022, 4:53 PM IST
  • यूपी के मैनपुरी में स्थित सैनिक स्कूल को जनरल बिपिन रावत सैनिक स्कूल के नाम से जाना जाएगा. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार ने तमिलनाडु हेलिकॉप्टर हादसे में शहीद हुए सीडीएस जनरल बिपिन रावत को श्रद्धांजलि देने के लिए ये फैसला लिया है.
शहीद जनरल बिपिन रावत के नाम पर होगा मैनपुरी सैनिक स्कूल (फाइल फोटो)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने मैनपुरी स्थित सैनिक स्कूल का नाम बदल कर शहीद सीडीएस जनरल बिपिन रावत के नाम पर रखने का फैसला लिया है. मुख्यमंत्री कार्यालय ने बुधवार को इसकी जानकारी दी. जनरल बिपिन रावत पिछले महीने तमिलनाडु के कुन्नूर में सैन्य हेलिकॉप्टर हादसे में शहीद हो गए थे.

यूपी सीएमओ ने कहा कि जनरल बिपिन रावत ने अपनी पूरी जिन्दगी देश की सेवा में लगा दी. उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मैनपुरी के सैनिक स्कूल का नाम उनके नाम पर रखने का फैसला लिया है. मैनपुरी सैनिक स्कूल को जनरल बिपिन रावत सैनिक स्कूल के नाम से जाना जाएगा. राजनीतिक विश्लेषकों के मुताबिक यूपी में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले योगी सरकार का ये फैसला अहम माना जा रहा है.

प्रयागराज: CDS बिपिन रावत के नाम जाना जाएगा महिलाग्राम-कालिंदीपुरम फ्लाईओवर

मैनपुरी में सैनिक स्कूल की शुरुआत 1 अप्रैल 2019 को हुई थी. पूरे देश में कुल 33 सैनिक स्कूल हैं, इनमें से 3 यूपी में हैं. मैनपुरी के अलावा झांसी और अमेठी में सैनिक स्कूल मौजूद है. लखनऊ में भी एक सैनिक स्कूल है, मगर उसे यूपी सैनिक स्कूल सोसायटी द्वारा संचालित किया जाता है. वहीं अन्य स्कूलों को रक्षा मंत्रालय की सैनिक स्कूल सोसायटी चलाती है.

तमिलनाडु में 8 दिसंबर को हुए हेलिकॉप्टर हादसे में देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत शहीद हो गए थे. इस हादसे में उनकी पत्नी मधुलिका रावत और 12 अन्य सैन्य अधिकारियों की भी जान चली गई थी. इस हादसे की जांच पूरी हो गई है. हालांकि जांच रिपोर्ट अभी तक सार्वजनिक नहीं की गई है. रिपोर्ट्स के मुताबिक जांच रिपोर्ट में खराब मौसम को हेलिकॉप्टर क्रैश की वजह माना गया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें