हिंदू बताकर की शादी, धर्म परिवर्तन से मना करने पर पत्नी-बच्चे को जलाने की कोशिश

Smart News Team, Last updated: 19/03/2021 09:53 AM IST
  • लखनऊ में अफजल नाम के व्यक्ति ने खुद को हिंदू बताकर एक महिला से शादी करके उसका जबरन धर्म परिवर्तन कराने की कोशिश की. जिसका विरोध करने पर आरोपी ने पत्नी-बच्चों को जिंदा जलाने का प्रयास किया. महिला ने किसी तरह अपनी जान बचाकर थाने में शिकायत दर्ज की. जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया.
हिंदू बताकर की शादी, धर्म परिवर्तन से मना करने पर पत्नी व बच्चों को जिंदा जलाने की कोशिश

लखनऊ. लखनऊ में धोखे से शादी करने और जबरन धर्म परिवर्तन कराने का एक मामला सामने आया है. जिसमें अफजल नाम के व्यक्ति ने खुद को राजीव बताकर एक महिला से आर्य समाज मंदिर में प्रेम विवाह किया. शादी के कुछ सालों बाद आरोपी ने महिला को धर्म परिवर्तन का जोर दिया. महिला के विरोध करने पर आरोपी ने बच्चों समेत अपनी पत्नी को घर में जिंदा जलाने की कोशिश की. महिला ने किसी तरह घर से बाहर निकलकर अपनी जान बचाई और थाने में शिकायत की. जिसके बाद पुलिस ने आरोपी पर यूपी विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज करके गिरफ्तारी कर ली है.

पीड़ित महिला के अनुसार 2009 में राजीव उर्फ अफजल से उसकी मुलाकात हुई. अफजल ने खुद को अनाथ बताकर महिला से 13 फरवरी 2009 को आर्य समाज मंदिर में शादी की. शादी के बाद उनके दो बच्चे हुए. जिनका नाम राजीव ने दूसरे मजहब से जुड़ा हुआ रखने के लिए कहा. जिसको लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ. जिसके बाद छानबीन करने पर महिला को राजीव का असली नाम मोहम्मद अफजल सिद्दीकी पता चला. इसके साथ ही उसके माता-पिता के बारे में भी पता चला. 

अवैध शराब कारोबारियों को लेकर सीएम का निर्देश, आरोपियों पर लगेगा गैंगस्टर एक्ट

महिला का आरोप है कि अफजल उसे धर्म परिवर्तन करने के साथ ही दूसरे लोगों से संबंध बनाने को भी कहता था. जिसका विरोध करने पर आरोपी महिला के साथ मारपीट करता था. जिसे लेकर महिला ने कई बार थाने में शिकायत की. लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई. महिला के अनुसार बुधवार की रात जब वो बच्चों के साथ अकेली थी. तब अफजल ने घर का दरवाजा बाहर से बंद करके घर में आग लगा दी. 

लखनऊ: भोजपुरी एक्टर खेसारी लाल यादव पर FIR, फिल्म निर्माता के बेटे को धमकाने का आरोप

महिला ने बचाव के लिए 112 कंट्रोल रूम पर फोन किया. जिसके बाद पुलिसकर्मिंयो ने महिला एवं बच्चों को बाहर निकाला. महिला ने बुधवार को हुई घटना को लेकर फिर से थाने में शिकायत की. जिसके बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए अफजल, उसके माता-पिता एवं धर्म गुरुओं पर ठाकुरगंज थाने में जानलेवा हमला करने व यूपी विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है.

योगी सरकार ने बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर नई गाइडलाइंस की जारी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें