आज़मगढ़ घटना को मायावती ने बताया शर्मनाक, दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मांग

Smart News Team, Last updated: Tue, 6th Jul 2021, 3:36 PM IST
  • दलितों पर अत्याचार के मामले में बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने कड़ी कार्रवाई की मांग की है. उन्होंने एक के बाद एक ट्वीट करते हुए पलिया गांव में दलितों पर की गई पुलिसिया कार्रवाई को शर्मनाक बताया.
मायावती ने आज़मगढ़ की घटना की निंदा की

लखनऊ: आज़मगढ़ में दलितों पर अत्याचार के मामले में बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने कड़ी कार्रवाई की मांग की है. उन्होंने एक के बाद एक ट्वीट करते हुए पलिया गांव में दलितों पर की गई पुलिसिया कार्रवाई को शर्मनाक बताया. इस मामले में उन्होंने सरकार से दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने और पीड़ितों को आर्थिक भरपाई करने का अनुरोध किया है.

मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा कि पुलिस ने पलिया गांव के पीड़ितों को इंसाफ देने के बजाए उनके साथ ज्यादती की और उन्हें आर्थिक नुकसान पहुंचाया. ये घटना बहुत ही निंदनीय है. एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि घटना की गंभीरता को देखते हुए बीएसपी का एक प्रतिनिधिमंडल पीड़ितों से मिलने जल्द ही पलिया गांव जाएगा.

योगी आदित्यनाथ पहुंचे पीजीआई, दूसरी बार जाना पूर्व सीएम कल्याण सिंह की सेहत का हाल-चाल

आपको बता दें कि 29 जून को रौनापार इलाके के पलिया गांव में रहने वाले एक बंगाली डॉक्टर का कुछ लोगों से विवाद हो गया था. आरोप है कि जब सूचना मिलने के बाद दो पुलिसकर्मी वहां पहुंचे तो ग्राम प्रधान और उनके समर्थकों ने हमला कर उन्हें जख्मी कर दिया.

डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर CM योगी ने दी श्रद्धांजलि

इस घटना के बाद पुलिस ने पूरे गांव की घेराबंदी कर दी. वहीं पुलिस पर आरोप है कि ग्राम प्रधान के मकान में तोड़फोड़ करके मकान को गिरा दिया गया. पुलिस पर ग्रामीणों से लूटपाट का भी आरोप है. उधर, इस मामले में 11 नामजद और 135 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें