लखनऊ में पतंगबाजी से फिर प्रभावित हुई मेट्रो सेवा, थाने में FIR दर्ज

Smart News Team, Last updated: Wed, 9th Dec 2020, 8:13 PM IST
  • लखनऊ में विश्विद्यालय स्टेशन के पास तार से बंधी पतंग के कारण ओएचई में बिजली की आपूर्ति बंद हो गई. इससे वहां की मेट्रो सेवा प्रभावित हो गई. मामले को लेकर महानगर थाने में एफआईआर भी दर्ज कराई गई.
फाइल फोटो

लखनऊ: लखनऊ की आधुनिक मेट्रो रेल सेवा में वहां होने वाली पतंगबाजी बार-बार ब्रेक लगाती हुई नजर आ रही है. लखनऊ शहर में होने वाली पतंगबाजी के कारण अकसर वहां की मेट्रो रेल सेवा प्रभावित होती है, इस मामले को लेकर बीते मंगलवार में महानगर थाने में एफआईआर भी दर्ज कराई जा जुकी है. बताया जा रहा है कि पतंगबाजी के कारण मेट्रो रेल के प्रभावित होने के अब तक 153 मामले सामने आ चुके हैं, जिसे लेकर पुलिस में भी कई बार शिकायत दर्ज कराई जा चुकी है.

वहीं, हाल ही का मामला लखनऊ में विश्विद्यालय स्टेशन के पास हुआ है, जहां तार से बंधी पतंग के कारण ओएचई में बिजली की आपूर्ति बंद हो गई. इस बारे में बात करते हुए मेट्रो के अधिकारियों ने बताया कि बिजली की आपूर्ति रुकने से इंसुलेटर भी खराब हो गया, जिसे रात में ही यूपीएमआरसी की टीम ने बदल दिया. लेकिन बिजली आपूर्ति रुकने से ट्रेन के संचालन में बाधा आई और इससे यात्रियों को भी मुश्किल का सामना करना पड़ा.

छात्रों के लिए सीएम योगी का नया फरमान, नए साल पर यूपी सरकार ने की अलग तैयारी

रिपोर्ट के मुताबिक तीन सालों में 508 बार ओएचई ट्रिप हुई है, जिसमें से 153 बार पतंगबाजी के कारण यह सब हुआ है. मेट्रो अधिकारियों ने इस बारे में बात करते हुए आगे कहा कि चीनी मांझे से न केवल मेट्रो सेवा बाधित होती है, बल्कि खुद पतंग उड़ाने वालों को भी नुकसान झेलना पड़ता है. तार या चीनी मांझे के 25 केवी की ओएचई के संपर्क में आने से पतंगबाजी करने वाले व्यक्ति को स्थायी रूप से अपंगता तक हो सकती है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें