मुसीबत में प्रवासी, लखनऊ में ड्राइवरों और कंडक्टरों ने बस चलाने से किया इंकार

Smart News Team, Last updated: Thu, 22nd Apr 2021, 1:25 PM IST
  • गुरुवार से बसों का संचालन करने वाले ड्राइवर और कंडक्टरों ने हाथ खड़े कर दिए, आलमबाग, चारबाग और कैसरबाग से बसों का संचालन ठप. दिल्ली मुंबई और बाकी महानगरों से आए श्रमिक बस अड्डे पर बस चलने का इंतजार कर रहें हैं.
मुसीबत में प्रवासी, लखनऊ में ड्राइवरों और कंडक्टरों ने बस चलाने से किया इंकार

लखनऊ: यूपी में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच स्थिती चिंताजनक है तो वहीं मुंबई, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान से लौट रहें मजदूरों को लखनऊ से अपने घर की और गांवों की ओर जानें में असली मुसीबत का सामना करना पड़ा रहा है. बीते दिन तो कुछ बसें मिल जाती थी और लोग धक्का मुक्की करके बसों में अपना स्थान सुनिश्चित कर लेते थे और अपने घरों को रवाना हो जाते थे लेकिन गुरुवार से बसों का संचालन करने वाले ड्राइवर और कंडक्टरों ने हाथ खड़े कर दिए हैं.

आलमबाग, चारबाग और कैसरबाग से बसों का संचालन ठप हो गया है. दिल्ली मुंबई और बाकी महानगरों से आए श्रमिक बस अड्डे पर बस चलने का इंतजार कर रहें हैं. ड्राइवर और कंडक्टर ने बिना सेनेटाइज किए बस ले जाने से इंकार कर दिया. बस अड्डे पर श्रमिक और दैनिक यात्रियों का जमावड़ा लग गया है. कोई इनकी सुध लेने को तैयार नहीं है. यात्री दर - दर भटक रहें हैं, ड्राइवरों और कंडक्टरों का कहना है की अगर जब तक बसों को हर ट्रिप के बाद पूरी तरह से सेनेटाइज नहीं किया जायेगा, तब तक बसों का पहिया थमा रहेगा. ड्राइवरों और कंडक्टरों ने कहा की हमें संक्रमण का डर लगता है इसलिए हम बसों को तबतक नहीं चलाएंगे जबतक इन्हें सेनेटाईज नहीं किया जायेगा.

लखनऊ: घर पर अकेली बुजुर्ग महिला की मौत, परिवार का कोई नहीं मौजूद, मौके पर पुलिस

आपको बता दें कि दिल्ली में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन लगा दिया है. जिसके बाद दिल्ली में काम करने वाले मजदूर बसों से राजधानी लखनऊ आ गए हैं. लोगों को धीरे-धीरे बसों से उनके घर भेजा जा रहा है. आरएम पल्लव के निर्देश पर अनुबंधित बसों से मजदूरों को भेजा जा रहा है. लखनऊ के आलमबाग और चारबाग बस अड्डे पर बहुत भीड़ है.

CM योगी ने की लखनऊ, वाराणसी और कानपुर में कोरोना की समीक्षा, दिए ये निर्देश

पंचायत चुनाव में कुछ बसें चल रही है. इस वजह से बसों की संख्या में काफी कमी आई है. यही वजह है कि दिल्ली से लखनऊ पहुंचे लोगों को अपने घर तक जाने के लिए बस का इंतजार करना पड़ रहा है. मिली जानकारी के मुताबिक, दिल्ली से राजधानी लखनऊ पहुंचे यात्रियों में ज्यादातर पूर्वांचल जिलों के आजमगढ़, देवरिया, बस्ती और गोरखपुर के रहने वाले हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें