केंद्र ने 50 साल पुराने पेंशन कानून में किया बदलाव, आश्रित पर हत्या का आरोप तो इसे मिलेंगे पैसे

Ankul Kaushik, Last updated: Thu, 23rd Sep 2021, 10:02 AM IST
  • केंद्र सरकार ने पारिवारिक पेंशन निलंबन की पुरानी नीति में संशोधन किया है. इस संशोधन के अनुसार सरकारी कर्मचारी की हत्या मामलों में आश्रित की जगह पर अन्य पात्र सदस्य को तुरंत पेंशन का पैसा मिलेगा.
केंद्र ने पारिवारिक पेंशन निलंबन की पुरानी नीति में किया संशोधन (फाइल फोटो)

लखनऊ. केंद्र सरकार ने पारवारिक पेंशन से जुड़े 50 साल पुराने कानून में बदलाव करते हुए फैसला लिया है कि सरकारी कर्मचारी की हत्या मामलों में आश्रित की जगह पर अन्य पात्र सदस्य को तुरंत पेंशन का पैसा मिलेगा. क्योंकि पहले अगर किसी सरकारी कर्मचारी की हत्या के मामले में कोई आश्रित है तो उसकी पेंशन रोक दी जाती थी लेकिन अब पेंशन निलंबित नहीं होगी. केंद्र सरकार ने पारिवारिक पेंशन निलंबन पर पुरानी नीति में संशोधन किया है. पेंशन निलंबन की पुरनी नीति में हुए संशोधन के अनुसार मरने वाले सरकारी कर्मचारी के आश्रित (पति या पत्नी) के खिलाफ आपराधिक कार्यवाही होने तक परिवार के अन्य पात्र सदस्य को पारिवारिक पेंशन दी जाएगी. बुधवार को पेंशन नियमों में संशोधन करते हुए केंद्र सरकार की तरफ से कहा गया है कि अगर सरकारी कर्मचारी की हत्या का आरोप परिजनों पर लगता है तो ऐसे परिजनों को पारिवारिक पेंशन का भुगतान नहीं मिलता था लेकिन अब इसका निष्कर्ष निकाला जा चुका है.

केंद्र के नए नियम के अनुसार मृतक कर्मचारी के पति या पत्नी के खिलाफ आपराधिक कार्यवाही के फैसला आने तक परिवार के दूसरे पात्र सदस्य पारिवारिक पेंशन लेने के हकदार होंगे. यदि पति या पत्नी हत्या के आरोप में दोषी नहीं साबित होता है तो परिवार पेंशन बरी होने की तारीख से उसे ही दी जाएगी. इस मामले को को लेकर कार्मिक मंत्रालय ने कहा है कि पारिवारिक पेंशन न देना गलत है.

UP: योगी सरकार का पांच लाख से ज्यादा पेंशनरों को तोहफा, 7वें वेतन के अनुसार मिलेगी पेंशन

पारिवारिक पेंशन की नीति में हुए बदलाव से पहले एक नियम था. इसमें यदि कोई व्यक्ति सरकारी कर्मचारी या पेंशन मिलने वाले की मृत्यु पर पारिवारिक पेंशन प्राप्त करने का पात्र है और उस पर ही सरकारी कर्मचारी की हत्या आरोप लगता है तो उस व्यक्ति को पारिवारिक पेंशन का भुगतान नहीं किया जाता था. अब यह निर्णय लिया गया है कि परिवार पेंशन का भुगतान निलंबित नहीं होगा तो पारिवारिक पेंशन मामले की समाप्ति तक परिवार के किसी दूसरे सदस्य को पेंशन मिलेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें