25 हजार इनामी शोएब गिरफ्तार, मुख्तार अंसारी एंबुलेंस पेशी मामले में था शामिल

Smart News Team, Last updated: Thu, 1st Jul 2021, 12:06 PM IST
मुख्तार अंसारी एंबुलेंस प्रकरण मामले में बुधवार को जैदपुर बाईपास के पास शोएब मुजाहिद को बाराबंकी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. शोएब मुजाहिद पर 25 हजार रुपए का इनाम भी रखा गया था. स्वयं मुजाहिद के गिरफ्तार होने से 1 दिन पहले मुख्तार अंसारी के ड्राइवर सलीम को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है.
मुख्तार अंसारी एंबुलेंस मामले में अब तक 6 लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है. (प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ : मुख्तार अंसारी को पंजाब की जेल से पेशी में ले जाते समय इस्तेमाल किए गए एंबुलेंस के मामले में बाराबंकी की पुलिस ने 25 हजार के इनामी शोएब मुजाहिद को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया है. शोएब मुजाहिद को इंस्पेक्टर पंकज सिंह ने सर्विलांस टीम की मदद से जैदपुर बाईपास के पास गिरफ्तार किया. ऐसी सूचना थी कि शोएब बाराबंकी के कोर्ट में आत्मसमर्पण करने वाला था. एंबुलेंस प्रकरण मामले में इससे पहले छह लोगों को जेल भेजा जा चुका हैं.

बुधवार को शोएब की गिरफ्तारी से पहले मंगलवार को एसटीएफ ने मुख्तार अंसारी के ड्राइवर सलीम को भी पकड़ा था. एसटीएफ के पूछताछ में सलीम ने कई सारा राज खोला है. सलीम ने पुलिस को बताया कि पंजाब जेल के लिए तीन डाइवर गए थे. बाराबंकी पुलिस सलीम को रिमांड पर लेने के लिए कोर्ट में एक अर्जी दायर करेगी. कोर्ट से अनुमति मिलने के बाद पुलिस उसके अब तक के सारे बयानों पर कई सारे और महत्वपूर्ण जानकारी जुटाने की कोशिश करेंगे. वही पहले से गिरफ्तार इस मामले के आरोपियों के सामने ड्राइवर सलीम को बैठाकर पूछताछ की जा सकती है.

यूपी धर्मांतरण: उमर गौतम का साथी सलाउद्दीन गुजरात से अरेस्ट, 3 जुलाई तक रिमांड

मुख्तार अंसारी को कोर्ट में पेशी के दौरान बाराबंकी के फर्जी दस्तावेज के आधार पर एंबुलेंस का रजिस्ट्रेशन कराया गया था. एंबुलेंस का प्रथम जब मीडिया में आया तब आरटीओ प्रशासन ने मऊ के श्याम संजीवनी अस्पताल चलाने वाली डॉ अलका राय, आनंद यादव, राजनाथ यादव और एसएन राय सहित मुख्तार अंसारी के खिलाफ शहर कोतवाली में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें