पंजाब से UP जेल में मुख्तार अंसारी को किया शिफ्ट, होगी कोरोना जांच

Smart News Team, Last updated: 07/04/2021 12:29 PM IST
  • मुख्तार अंसारी के दूसरी जेल में शिफ्ट करने के लिए लेने गई यूपी पुलिस की टीम ने आखिरकार 900 किमी का सफर तयकर लिया है. उनका काफिला बुधवार तड़के 4.30 बजे बांदा जेल पहुंच गया जहां मुख्तार को 16 नंबर की बैरक में रखा जाएगा.
मुख्तार अंसारी की वापसी में बदला काफिले का रूट, चप्पे-चप्पे पर थी पुलिस की नजर

लखनऊ। पंजाब की रोपड़ जेल से मुख्तार अंसारी के दूसरी जेल में शिफ्ट करने के लिए लेने गई यूपी पुलिस की टीम ने आखिरकार 900 किमी का सफर तयकर लिया है. उनका काफिला बुधवार तड़के 4.30 बजे बांदा जेल पहुंच गया जहां मुख्तार को 16 नंबर की बैरक में रखा जाएगा. मामले ली जानकारी देते हुए सीओ सदर सत्यप्रकाश ने बताया कि हमे अंसारी को बांदा जेल लाने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी. हम बसपा विधायक को एंबुलेंस में लेकर आज तड़के आए हैं.

मुख्तार अंसारी के जेल में पहुंचने के बाद जेल के डीजी आनन्द कुमार ने जाकारी देते हुए कहा कि शासन के द्वारा दिए निर्देशों के अनुसार बाँदा के नगर मजिस्ट्रेट को जेल के अधीक्षक का अतिरिक्त प्रभार दिया है. इस जेल में अधीक्षक का पद पिछले दो साल से खाली ही चल रहा था. हालांकि इस मौके पर जेल मुख्यालय से नए जेल धीक्षक का प्रस्ताव भेजा गया है. इसके अलावा दो डिप्टी जेलर और पीएसी और जेल कर्मी भी लगाये गए हैं.

यूपी कोरोना गाइडलाइन: अब शादी में सिर्फ इतने लोगों को परमिशन, इन जिलों पर फोकस

बुधवार सुबह तकरीबन पौने पांच बजे मुख्तार अंसारी को पुलिस ने पंजाब की रोपड़ जेल से लाकर बाँदा जेल में दाखिल किया गया. डीजी ने बताया मुख़्तार अंसारी को बैरक संख्या 16 में कड़ी निगरानी में रखा गया है. पंजाब में उसकी कोरोना जांच नही हुई थी लेकिन आज उसकी कोरोना की जांच कराई जाएगी. जिसके चलते स्वास्थ्य विभाग को पत्र भेजकर कोरोना जांच कराई जा रही है. लखनऊ से वीडियो वाल की मदद से मुख्तार व उसकी सुरक्षा पर नजर रखी जा रही है.

लखनऊ: यूनिवर्सिटी समेत सभी डिग्री कॉलेज 10 अप्रैल तक बंद, DM के निर्देश

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें