जल्द अमेठी में बननी शुरू होंगी AK-203 राइफल, बढ़ेगी सेना की ताकत, मोदी सरकार ने दी मंजूरी

Shubham Bajpai, Last updated: Sat, 4th Dec 2021, 1:55 PM IST
  • केंद्र की मोदी सरकार ने यूपी के अमेठी में एके-203 असॉल्ट राइफल के निर्माण को मंजूरी दे दी है. जल्द ही अमेठी में 5 लाख से अधिक राइफल का निर्माण शुरू हो जाएगा. इस राइफल से इंडियन आर्मी के जवानों की न सिर्फ ताकत बढ़ेगी बल्कि कई मोर्चों में स्थिति प्रभावी हो जाएगी. 
जल्द अमेठी में बननी शुरू होंगी AK-203 राइफल, बढ़ेगी सेना की ताकत, मोदी सरकार ने दी मंजूरी (फोटो सभार लाइव हिंदुस्तान)

लखनऊ. यूपी लगातार रक्षा से जुड़ी निर्माण वस्तुओं का केंद्र बनता जा रहा है. लगातार इस क्षेत्र में यूपी नए आयाम रच रहा है. यूपी के अमेठी में नई टेक्निक से एके-203 असॉल्ट राइफल का निर्माण शुरू होने जा रहा है. इसके निर्माण के साथ यूपी इस क्षेत्र में एक कदम और आगे बढ़ जाएगा. इसके निर्माण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केंद्र सरकार ने मंजूरी दे दी है.

रूस से साथ टेक्निक साझेदारी में होगा निर्माण

इस राइफल का निर्माण इंडो-रशियन राइफल्स प्राइवेक लिमिटेड नामक एक प्रयोजन के संयुक्त रूप से किया जाएगा. यह भारत के तत्कालीन ओएफबी आयुध निर्माणी बोर्ड एवं कालाश्निकोव के साथ बनाया गया है.

मायावती की BSP का टिकट दिलाने के नाम पर 30 लाख की ठगी, सिराथू विधानसभा की थी डील

सेना में लेगी इंसास राइफल की जगह

जानकारी अनुसार, ये राइफल इंसास राइफल की जगह लेगी. ये राइफल 300 मीटर की प्रभावी रेंज के साथ, हल्की मजबूत और प्रमाणित तकनीक के साथ आसानी से उपयोग में लाई जा सकने वाली आधुनिक असॉल्ट राइफल हैं. ये ये परिकल्पित अभियान संबंधी चुनौतियों का सामना करने के साथ सैनिकों को युद्ध के समय उनकी क्षमता बढ़ाने का काम करेगी.

पहले 70 हजार में शामिल होंगे रूसी पुर्जे

जानकारी अनुसार, उत्पादन प्रक्रिया शुरू होने के 32 महीने बाद इन्हें सेना को दिया जाएगा. इसका निर्माण अमेठी की एक फैक्ट्री में होगा. दोनों पक्षों में कुल सालों पहले समझौते को लेकर सहमति बन गई थी और अब इसका निर्माण शुरू होगा. इसके निर्माण में शुरुआती 70 हजार राइफल में रूसी पुर्जों का उपयोग किया जाएगा क्योंकि टेक्निक हस्तांतरण धीरे-धीरे होता है.

मानवता शर्मसार! 7 साल की मासूम से रेप, दांतों से काटा, शरीर में चुभाई पिन

मोदी और पुतिन की बैठक में होंगे अन्य फैसले

इस बीच भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ सोमवार को बैठक करने जा रहे हैं. इस बैठक में भारत 7.5 लाख एके-203 राइफलों की आपूर्ति पर समझौता करने जा रहा है. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें