मामी के साथ भांजे ने दोस्तों संग की गंदी बात, विरोध करने पर खौफनाक अंजाम

Smart News Team, Last updated: 10/10/2020 10:14 PM IST
  • लखनऊ में एक युवक अपनी मामी को जमीन बेनामी करने के बहाने एक्सप्रेस वे पर ले गया और दोस्त के साथ मिलकर छेड़छाड़ करने लगा. शोर मचाने पर महिला को एक्सप्रेस वे पर फेंक दिया.
लखनऊ एक्सप्रेस वे पर भांजे और उसके दोस्त ने मामी के साथ छेड़छाड़ की.

लखनऊ. लखनऊ में छेड़छाड़ का एक सामने आया है. जिसमें युवक ने जमीन का बेनामा कराने के बहाने ले जाकर दोस्त के साथ अपनी मामी के साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश की. जब उसकी मामी ने शोर मचाया तो ऊसे लोडर से एक्सप्रेव पर फेंक दिया. ग्रामीणों ने उसे पकड़कर पुलिस को सौंप दिया. पीड़िता ने आरोपी पर दुराचार करने का अरोप लगाया है.

पीडिता ने पुलिस को बताया कि आरोपियों ने ऊसके साथ दुराचार करने का प्रयास किया लेकिन जांच होने के बाद उन्नाव एसपी ने बताया कि ये छेड़छाड़ का मामला है. एसपी ने कहा कि पीड़िता लखनऊ में एक प्रापर्टी डीलर के आफिस में काम करती है.

CBSE बोर्ड ने परीक्षा पैटर्न में किया बदलाव, अब 10वीं और 12वीं में पूछे जाएंगे कम सवाल

ये मामला लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे का है. जहां एक युवक ने अपने दोस्त के साथ मिलकर भाभी के साथ दुराचार करने का प्रयास किया. युवक मामी को अपनी जमीन का बेनामा करने का बहाने ले गया फिर उसे एक्सप्रेस-वे पर ले जाकर अश्लील हरकत और छेड़छाड़ शुरू कर दी. 

योगी सरकार ने निकाली बंपर भर्ती, UPSRTC के 22 हजार पदों के लिए मांगे आवेदन

जिसके बाद पीड़िता ने शोर मचाना शुरू कर दिया. जिसे देखकर दोनों घबरा गए और महिला को लोडर से एक्सप्रेस वे पर फेंक दिया. जिसके बाद दोनों भागने की फिराक में थे लेकिन गाड़ी में डीजल खत्म होने की वजह से वे भाग नहीं पाए. ग्रामीणों ने दोनों आरोपियों को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया.

संजय सिंह का योगी सरकार पर हमला, बोले- गैर BJP शाषित राज्य में हो हाथरस केस की जांच

लखनऊ की रहने वाली पीड़िता ने कहा कि उसके भांजे ने उसे बताया कि उसने बांगरमऊ में एक जमीन खरीदी है. जिसका बेनामा ऊसे तहसील में कराना है. उसने अनपढ़ होने की बात कहकर साथ चलने को कहा. उसके साथ लोडर पर ऊसका साथी भी साथ में चल रहा था. जैसे ही लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर पहुंचे ऊसके साथी ने छेड़छाड़ शुरू कर दी. उसका विरोध करने पर भांजे ने भी छेड़छाड़ शुरू कर दी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें