लखनऊ सिपाही केस में नया खुलासा, मर्दानगी को लेकर मजाक उड़ाने पर मर्डर

Smart News Team, Last updated: Fri, 11th Jun 2021, 1:29 PM IST
  • आरोपी सिपाही आशीष ने हत्या करने का मकसद बताते हुए कहा कि मृतक युवक प्रवीण उसकी मर्दानगी और पत्नी से विवाद को लेकर आए दिन मजाक उड़ाता रहता था. इसी से तंग आकर उसने प्रवीण की हत्या कर दी.
सिपाही केस में नया खुलासा

लखनऊ: गोमतीनगर के विभूतिखंड इलाके में लोहिया अस्पताल परिसर में हुई हत्या के मामले में एक नया खुलासा हुआ है. आरोपी सिपाही आशीष ने हत्या करने का मकसद बताते हुए कहा कि मृतक युवक प्रवीण उसकी मर्दानगी और पत्नी से विवाद को लेकर आए दिन मजाक उड़ाता रहता था. इसी से तंग आकर उसने प्रवीण की हत्या कर दी.

पुलिस से पूछताछ के दौरान आरोपी आशीष ने बताया कि सजायाफ्ता कैदी ध्रुव की सुरक्षा में रहने के कारण उसके बेटे प्रवीण से दोस्ती हो गई थी. गहरी दोस्ती की वजह से आशीष ने प्रवीण को अपनी शारीरिक कमजोरी के बारे में भी बताया था. आशीष ने प्रवीण से ये भी बताया था कि शादी के कुछ समय बाद ही उसकी पत्नी उसे छोड़कर मायके चली गई थी. इन्हीं बातों को लेकर प्रवीण अक्सर सिपाही का मजाक उड़ाता था.

CM योगी से शिकायत के बाद केजीएमयू में कोरोना किट को खरीदने का टेंडर हुआ रद्द

आपको बता दें कि बुधवार को आरोपी पुलिस कॉन्स्टेबल आशीष मिश्रा ने सजायाफ्ता कैदी ध्रुव कुमार के बेटे प्रवीण की गोली मारकर हत्या कर दी थी. ध्रुव कुमार का इलाज लोहिया अस्पताल में चलने के कारण प्रवीण वहां आया हुआ था. इसी दौरान दोनों में विवाद हुआ और ध्रुव की सुरक्षा में लगे कॉन्स्टेबल आशीष मिश्रा ने उसे गोली मार दी.

लखनऊ सर्राफा बाजार में 11 जून को सोना चांदी के दामों में लगी आग, जानें भाव

हत्या के बाद आशीष सीधे थाने गया और सरेंडर कर दिया. सजायाफ्ता कैदी ध्रुव कुमार की सुरक्षा में आशीष समेत कुल दो पुलिसकर्मी 25 मई से तैनात थे. सरेंडर करने के बाद आशीष ने खुद को प्रवीण से जान का खतरा बताया था.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें