अब चार डस्टबिन में अलग-अलग रखना होगा कूड़ा

Smart News Team, Last updated: 01/12/2020 12:52 PM IST
  • अब घरों, बाजारों व कार्यालयों में दो डस्टबिन से काम नहीं चलेगा. लोगों को अब चार डस्टबिन रखने होंगे.
लोगों को अब घर में चार डस्टबिन रखने होंगे.

लखनऊ: स्वच्छता सर्वेक्षण इस बार हालांकि छह हजार अंकों का ही होगा लेकिन मानक कड़े कर दिए हैं. अब घरों, बाजारों व कार्यालयों में दो डस्टबिन से काम नहीं चलेगा. लोगों को अब चार डस्टबिन रखना होगा. सूखा, गीला, बायोमेडिकल व हानिकारक अपशिष्ट को कूड़े को अलग-अलग एकत्र करना होगा. इसपर नगर निगम को स्वच्छता रैंकिंग में 200 अंक मिलने हैं.

अब तक कूड़े को दो वर्ग में ही बांटा गया था. नगर निगम ने पिछले वर्ष सर्वेक्षण से पहले घरों में दो-दो डस्टबिन भी वितरित की थी. लोगों से अलग-अलग कूड़ा एकत्र करने की अपील की थी. अभी ज्यादातर घरों से पूरा कूड़ा एक ही डस्टबिन में ही एकत्र किया जा रहा है. चार डिस्टबिन में कूड़ा एकत्र करवाने के लिए लोगों को प्रेरित करना बड़ी चुनौती है.

CM योगी के निर्देश, निजी संस्थाओं में कोरोना जांच की दरें फिर तय हों

इसका मुख्य उद्देश्य स्त्रोत पर ही कूड़े अलग कर लिया जाए. जिससे उसके निस्तारण मे सुविधा हो. स्वच्छ भारत मिशन के प्रभारी डॉ. अरविंद कुमार राव के मुताबिक चार डस्टबिन रखने के लिए अभियान चलाया जाएगा.

नगर निकायों में न्यूनतम पदों का मानक लागू होगा, कई पद खत्म करने की तैयारी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें