सपा सीट ना दे तो भी अखिलेश यादव से चुनावी गठबंधन करेंगे ओवैसी के पार्टनर राजभर

Shubham Bajpai, Last updated: Wed, 20th Oct 2021, 4:27 PM IST
  • यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से पहले ओम प्रकाश राजभर और अखिलेश यादव ने साथ चुनाव लड़ने की ट्वीट कर जानकारी दी. सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने सपा मुखिया अखिलेश यादव से मुलाकात की. कभी एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के साथ चुनाव लड़ने वाले राजभर अब सपा में शामिल हो गए हैं.
अखिलेश यादव की सपा के साथ आए ओपी राजभर, बोले- यूपी में भाजपा साफ

लखनऊ. कभी भागीदारी संकल्प मोर्चा में असदुद्दीन ओवैसी तो कभी बीजेपी में केशव मौर्या और धर्मेंद्र प्रधान के बीच डोल रहे सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने फिर पलटी मार दी है. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से लखनऊ में मिलने के बाद ओपी राजभर ने कहा है कि सपा एक सीट ना भी दे तो भी उसके साथ गठबंधन करके लड़ेंगे और बीजेपी को साफ करेंगे. इससे पहले राजभर समाजवादी पार्टी के साथ जाते दिख रहे हैं. पहले पार्टी स्थापना दिवस पर 27 अक्टूबर को एसबीएसपी के चुनावी रणनीति के खुलासे की बात करने वाले राजभर ने अखिलेश के साथ मुलाकात का वीडियो डालकर लिखा- अबकी बार, भाजपा साफ.

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से पहले प्रदेश में पार्टियों के गठजोड़ की सियासत शुरू हो गई है. इस बीच समाजवादी पार्टी ने सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के साथ चुनाव लड़ने की ट्वीट कर जानकारी दी. सपा प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और सुभासपा के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर की मुलाकात के बाद समाजवादी पार्टी ने अपने आधिकारिक अकाउंट से इस संबंध में ट्वीट किया. इसके साथ ही सपा ने अखिलेश और ओम प्रकाश राजभर की तस्वीर भी पोस्ट की. इससे पहले ओम प्रकाश राजभर से अखिलेश के चाचा और प्रसपा के अध्यक्ष शिवपाल यादव से भी गठबंधन को लेकर मुलाकात कर चुके हैं.

सियासत खूब की शादी नहीं की, जानें देश के वे 7 मुख्यमंत्री जो हमेशा रहे अविवाहित

बता दें कि ओम प्रकाश राजभर पहले भी कह चुके थे कि अखिलेश छोटे दलों से बात करें तो भाजा पूर्वी उत्तर प्रदेश में एक सीट के लिए भी तरस जाएगी. जिसके बाद से दोनों के साथ आने के कयास लगाए जा रहे थे.

सपा और सुभासपा मिलकर लड़ेंगे कमजोर वर्ग की लड़ाई

समाजवादी पार्टी ने ट्विटर कर दोनों के साथ चुनाव लड़ने की जानकारी दी. पार्टी ने ट्वीट किया कि वंचितों, शोषितों, पिछड़ों, दलितों, महिलाओं, किसानों, नौजवानों, हर कमजोर वर्ग की लड़ाई समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी मिलकर लड़ेंगे. सपा और सुभासपा आए साथ, यूपी में भाजपा साफ!

पुलिस कस्टडी में चोरी के आरोपी की मौत, अखिलेश बोले- BJP सरकार में पुलिस खुद अपराध कर रही

राजभर ने ट्वीट कर दी साथ चुनाव लड़ने की जानकारी

सुभासपा प्रमुख ओमप्रकाश राजभर ने भी ट्वीट कर सपा के साथ चुनाव लड़ने का ऐलान किया. राजभर ने ट्वीट किया कि पूर्व मुख्यमंत्री एवं सपा के सुप्रीमो अखिलेश यादव से शिष्टाचार मुलाकात की. ​समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी मिलकर आए साथ. दलितों, पिछड़ों अल्पसंख्यकों के साथ सभी वर्गों को धोखा देने वाली भाजपा सरकार के दिन हैं बचे चार, अबकी बार, भाजपा साफ.

सपा अगर एक सीट भी नहीं देगी तो भी सपा के साथ

सपा और सुभासपा के साथ आने की जानकारी सामने आने के बीच ओम प्रकाश राजभर ने बड़ा बयान दिया. राजभर ने कहा कि अगर समाजवादी पार्टी एक सीट भी नहीं देगी तो भी सपा के साथ रहेंगे. आज यूपी में नफरत की राजनीति हो रही है और प्रदेश में व्यापारी और नौजवान परेशान हैं. इससे पहले बसपा, कांग्रेस को भी निमंत्रण दिया था. वहीं, ओम प्रकाश ने बताया कि 27 अक्टूबर के बाद सपा के साथ सीटों पर बात कर लेंगे.

यूपी चुनाव 2022 में बसपा के लिए 118 सीटें अहम, मायावती गुणा-गणित बैठाने में जुटीं

 इससे पहले ओ पी राजभर असुदद्दीन ओवैसी की पार्टी से भी गठबंधन कर चुके हैं. इसके लिए उन्होंने भागीदारी संकल्प मोर्चा का गठन किया है. जो कई दलों को मिलकर बनाया जा रहा है. साथ ही मऊ में 27 अक्टूबर को महापंचायत करने की भी ओम प्रकाश राजभर घोषणा कर चुके हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें