कैब ड्राइवर की लड़की के हाथों पिटाई में इंस्पेक्टर समेत दो दारोगा लाइन हाजिर

Smart News Team, Last updated: Thu, 5th Aug 2021, 8:25 AM IST
  • लखनऊ में तीन दिन पहले हुए हाईवोल्टेज ड्रामा का वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले में एक्शन लिए गए. वहीं इस ड्राइवर की पिटाई केस में पुलिस वालों पर भी गाज गिरी और एक इंस्पेक्टर और दो दारोगा लाइन हाजिर किए गए. तीन दिन पहले एक लड़की ने बीच चौराहे पर एक कैब ड्राइवर को पीटा था. वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ.
लड़की ने जमकर लड़के को पीटा. बीच सड़क पर लड़की ने कैब ड्राइवर पर थप्पड़ बरसा दिए. (फोटो- वीडियो से स्क्रीनशॉट)

लखनऊ. लखनऊ में हुए कैब ड्राइवर पिटाई कांड में पुलिस वालों पर गाज गिरी है. इस केस में एक इंस्पेक्टर और दो दरोगा लाइन हाजिर किए गए. तीन दिन पहले एक लड़की ने बीच सड़क पर कैब ड्राइवर को बुरी तरह पीटा जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ. इस वीडियो में एक पुलिस वाला भी दिखा जो लड़की को रोकने की जगह जाम खुलवाने के लिए दोनों को साइड करता दिखा. वहीं ड्राइवर को पीटने के मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में इंस्पेक्टर कृष्णानगर महेश दुबे और दो दरोगा को बुधवार रात को लाइन हाजिर कर दिया गया.

पुलिस कमिश्नर ने यह कार्रवाई एसीपी और एडीसीपी की जांच रिपोर्ट के आधार पर की है. बता दें कि ड्राइवर ने आरोप लगाया कि लड़की ने उसे बिना किसी कारण पीटा और सड़क पर हंगामा होने के बाद पुलिस उसे और लड़की को थाने ले गई. उसके आरोप हैं कि लड़की के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई और दरोगा ने उस ड्राइवर और उसके भाइयों से रिश्वत ली. कहा गया है कि कृष्णानगर पुलिस ने बिना पड़ताल किए घटना के दिन ड्राइवर और दूसरे दिन उसके दो भाईयों के खिलाफ कार्रवाई कर दी थी. इन्हीं आरोप की जांच की गई और एक्शन लेते हुए दरोगा और इंस्पेक्टर को लाइन हाजिर किया गया.

इससे पहले पुलिस कमिश्नर ने ड्राइवर से पूछताछ कर पुलिसकर्मियों पर लगे आरोपों की जांच एडीसीपी व एसीपी कृष्णानगर को सौंपी थी. मामले में अब लाइन हाजिर हुए अफसरों ने पूछताछ के दौरान ड्राइवर के बयान लिए थे. एडीसीपी चिरंजीव नाथ सिन्हा और एसीपी कृष्णानगर स्वतंत्र कुमार सिंह ने ही पुलिसकर्मियों से ड्राइवर का आमना-सामना कराया था.

वायरल वीडियो में कैब ड्राइवर को थप्पड़ मारती युवती पर FIR दर्ज, लड़की ने कहा- मुझे मारते हुए 300 मीटर तक घसीटा

अलोक राय को कृष्णानगर का नया इंस्पेक्टर बनाया गया है. ड्राइवर को पीटने की आरोपी प्रियदर्शिनी उर्फ लक्ष्मी ने सोशल मीडिया पर खुद को निर्दोष बताया है. उसने एक जानकार की मदद लेते हुए पुलिस तक भी यह बात पहुंचाई कि मामले में कैब ड्राइवर की गलती थी. इस मामले में अब नए विवेचक बंथरा इंस्पेक्टर गुरुवार को पीड़ित के बयान दर्ज करेंगे.

Video: लड़की ने बीच सड़क कैब ड्राइवर को पीटा, मारे थप्पड़, देखती रही पब्लिक, अब…

ड्राइवर सआदत के समर्थन में अब राखी सांवत समेत बालीवुड के कई कलाकार भी आ गये हैं. राखी ने अपना एक वीडियो वायरल कर सआदत को अपना भाई बताया है. उसने आरोपी युवती पर गुस्सा दिखाया है. वहीं दूसरी ओर पीटने वाली लड़की प्रियदर्शनी पर कई आरोप लग रहे हैं और उसके ड्राइवर को पीटने को सोशल मीडिया पर गलत बताया जा रहा है. बता दें कि प्रियदर्शनी का एक और वीडियो बुधवार रात वायरल हुआ. इसमें लड़की अपने पड़ोसी से झगड़ा करते दिख रही है. यह झगड़ा सिर्फ इस बात का है कि पड़ोसी ने अपने घर को काले रंग से पेंट करवा रखा है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें