सहमति पत्र को लेकर अभिभावकों पर दबाव बना रहा स्कूल प्रशासन, विरोध प्रदर्शन

Smart News Team, Last updated: Sun, 11th Oct 2020, 6:35 PM IST
  • लखनऊ में शनिवार को मोंटफोर्ट स्कूल के बाहर अभिभावकों ने प्रदर्शन किया. अभिभावकों का आरोप है कि स्कूल प्रशासन उन पर सहमति पत्र देने के लिए दबाव डाल रहा है.
लखनऊ में सहमति पत्र के दबाव के विरोध में अभिभावकों ने मोंटफोर्ट स्कूल के बाहर विरोध प्रदर्शन किया.

लखनऊ. लखनऊ में एक प्राइवेट स्कूल के बाहर अभिभावकों ने धरना प्रदर्शन किया. अभिभावकों का आरोप है कि मोंटफोर्ट स्कूल प्रशासन उन पर स्कूल खोलने के संबंध में सहमति पत्र देने के लिए दबाव बना रहा है. आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने 19 अक्टूबर से स्कूल खोलने का फैसला लिया है. मगर अभिभावकों की सहमति के बाद ही बच्चे स्कूल आ सकते हैं.

शनिवार को लखनऊ के मोंटफोर्ट स्कूल के बाहर अभिभावकों ने विरोध प्रदर्शन किया. उनका आरोप है कि प्रशासन उन पर सहमति पत्र देने के लिए दबाव बना रहा है. मोंटफोर्ट अभिभावक वेलफेयर के अध्यक्ष यतेन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि स्कूल जिम्मेदारी नहीं लेना चाहता है. प्रशासन अभिभावकों पर लगातार सहमति पत्र देने का दबाव डाल रहा है.

महंगा पड़ा लड़की को कैब बुक कराना, अब ड्राइवर फोन पर देता है रेप की धमकी

विरोध प्रदर्शन में शामिल अभिभावकों ने कहा कि जब तक स्कूल जिम्मेदारी नहीं लेता है. तब तक वो बच्चो को स्कूल नहीं भेजेंगे. इसके अलावा अभिभावकों की मांग है कि बच्ची की फीस भी 50 फीसदी माफ की जाए. इस विरोध प्रदर्शन में मोंटफोर्ट अभिभावक वेलफेयर के अध्यक्ष यतेन्द्र श्रीवास्तव, पंकज, श्याम जी तिवारी, इरफान अजीम, विशाल चौरसिया, रोहित त्रिपाठी, अनिल अग्रवाल और अन्य अभिभावक मौजूद रहें.

लखनऊ:ऑनलाइन दवा बिक्री के नाम पर ठगी, पुलिस ने दो आरोपियों को किया गिरफ्तार

आपको बता दें कि केन्द्र सरकार ने 15 अक्टूबर से स्कूल खोलने की एडवायजरी जारी कर दी है. जिसके बाद यूपी सरकार ने 19 अक्टूबर से स्कूल खोलने का आदेश दिया. इसमें साफ कहा गया कि अगर अभिभावक बच्चों को स्कूल नहीं भेजना चाहते हैं तो उनके बच्चों की क्लासेज पहले की तरह ऑनलाइन चलती रहेंगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें