पशुधन घोटाला: निलंबित DIG अरविंद सेन ने मुख्य आरोपी से संबंध कुबूले, देंखे बयान

Smart News Team, Last updated: Fri, 6th Aug 2021, 2:21 PM IST
  • निलंबित डीआईजी अरविंद सेन से गुरुवार को पशुपालन विभाग में हुए आटे की सप्लाई के नाम पर करोड़ो रुपये के हुए फर्जीवाड़े में करीब चार घंटे तक पूछताछ की गई. अरविंद ने माना कि मुख्य आरोपी आशीष राय के साथ उनके संबंध थे लेकिन वह उसके साथ घोटाले में शामिल नहीं थे. कई सवालों के जवाब कोर्ट में देने को कहा.
पूर्व डीआईजी अरविंद सेन

लखनऊ. पशुधन घोटाले में हुए गिरफ्तार निलंबित डीआईजी अरविंद सेन से गुरुवार को करीब चार घंटे तक पूछताछ की गई. इस दौरान अरविन्द सेन ने माना कि इस फर्जीवाड़े के मुख्य आरोपी आशीष राय के साथ उनके संबंध थे लेकिन वह उसके साथ घोटाले में शामिल नहीं थे. 

कई सवालों के जवाब पूर्व डीआईजी अरविंद ने कोर्ट में ही देने को कहा. कुछ सवालों पर वह गुस्सा भी हुए. पूछताछ आज भी होगी क्योंकि गुरुवार को 24 घंटे की रिमांड पर लाया गया था जो कि शुक्रवार दोपहर 12 बजे खत्म होगी. 

पूर्व डीआईजी अरविंद को लखनऊ जिला जेल से गुरुवार दोपहर हजरतगंद कोतवाली लाया गया. यहां हवालात में बंद कर दिया गया. एसपी श्वेता श्रीवास्तव के आते ही कोतवाल के कमरे में ले जाकर चार घंटे तक सवाल पूछे गए. बता दें कि इस फर्जीवाड़े की रिपोर्ट साल 2020 जून में इंदौर के व्यापारी मंजीत भाटिया ने दर्ज कराई थी. 

अरविंद सेन से चार घंटे के दौरान पूछे गए कुछ सवाल-जवाब 

फर्जीवाड़े में जो आरोप लगे हैं, उस बारे में बताइये? -आशीष राय से मेरे पुराने संबंध थे पर इस फर्जीवाड़े से मेरा कोई लेना-देना नहीं है. व्यापारी को अपने कार्यालय में क्यों धमकाया? -मैं कभी उससे मिला ही नहीं. जब एसके मित्तल बनकर ये जालसाज मिल सकते हैं तो अरविंद सेन बनकर भी कोई और इसके सामने आया होगा. पीड़ित ने फिर अरविंद सेन पर आरोप क्यों लगाये? -उसने तत्कालीन एसपी सीबीसीआईडी पर आरोप लगाये हैं. एफआईआर में कहीं भी मेरा नाम नहीं है. उसे दफ्तर ले जाकर किसी फर्जी एसपी से मिलाया गया होगा. आशीष ने आपके खाते में लाखों रुपये क्यों जमा कराये? -आशीष की ओर से मेरे खाते में कभी रुपये नहीं जमा किये गये.  ये रुपये किसी और न जमा कराये. किसने ये रुपये जमा करायें और क्यों?-इसका जवाब मैं कोर्ट में दूंगा. फिर आशीष को इन रुपयों के बारे में कैसे पता चला, उसने बयान दिया है ऐसा? -इसका जवाब भी वह कोर्ट में ही. जांच में तो कई सुबूत मिले हैं आपके खिलाफ - इन सुबूतों का जवाब भी कोर्ट में ही देंगे.

यूपी पशुधन घोटाले में हिन्दुस्तान ने ऐसे चलाई मुहिम तब सस्पेंड हुए दो DIG

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें