पटना: IRCTC की वेबसाइट हैक कर बनाता था फेक टिकट, इस सॉफ्टवेयर का किया इस्तेमाल

Smart News Team, Last updated: Mon, 7th Sep 2020, 1:29 PM IST
  • पटना में आईआरसीटीसी की वेबसाइट को हैक करके रेलवे टिकट बनाने वाले दलाल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बताया गया कि वो एक खास सॉफ्टवेयर की मदद से वेबसाइट हैक करता था. उसके पास से हजारों के टिकट भी मिले हैं.
पटना: IRCTC की वेबसाइट हैक कर बनाता था फेक टिकट, इस सॉफ्टवेयर का किया इस्तेमाल

पटना. साइबर क्राइम बिहार की राजधानी पटना में तेजी से फैलता ही जा रहा है. इसकी चपेट में सरकारी दफ्तर भी आ रहे हैं. भारतीय रेलवे की वेबसाइट आईआरसीटीसी को हैक कर लिया और इसके जरिए हजारों के टिकट भी निकाले गए. वेबसाइट हैक करने और टिकट निकाल कर बेचने वाले को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. 

पुलिस ने बताया कि वो एक सॉफ्टवेयर की मदद से वेबसाइट हैक करता था. आरपीएफ ने दलाल को पकड़ा और उसे पूछताछ के लिए थाने ले गई. रविवार की रात आरपीएफ ने सुल्तानगंज थाना क्षेत्र के टेकारी रोड से उसकी गिरफ्तार किया है. आरपीएफ पटना पोस्ट के प्रभारी वीके सिंह ने बताया कि महेंद्रू इलाके में मनीष कुमार नाम का टिकट दलाल काफी दिनों से आईआरसीटीसी की वेबसाइट को हैक करके टिकट बनाता था.

पटना एसएसपी ने पुलिस विभाग में की बड़ी फेरबदल, 12 थानेदारों का ट्रांसफर

अभी जांच में पता चला है कि हैकर रियल मैंगो नामक सॉफ्टवेयर से वेबसाइट को हैक करता था. साइट को हैक करने पर यह काफी तेजी से तत्काल टिकट भी बनाकर ऊंचे और मनमाने दाम पर बेचता था. आरपीएफ ने रात नौ बजे तक इसके पास से 10 हजार से अधिक मूल्य के टिकट बरामद किये हैं.

पटना: लोगों का घरों के बाहर 'हर घर धरना, घर-घर धरना' कहा- जान दे देंगे, मकान नही

उसके पास से बरामद टिकट की जांच की जा रही है. आरपीएफ सोमवार को रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी. वहीं, एक्सपर्ट से भी रियल मैंगो नामक सॉफ्टवेयर की जांच कराई जाएगी कि आखिर कैसे यह वेबसाइट को हैक करके टिकट बनाता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें