PM मोदी ने जारी की पीएम आवास योजना के तहत UP में 2691 करोड़ की वित्तीय सहायता

Smart News Team, Last updated: 20/01/2021 02:38 PM IST
बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश में पीएम आवास योजना के तहत 6.191 लाभार्थियों को लगभग 2691 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता जारी की है. इस दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पीएम आवास योजना में गांव की तस्वीर बदल दी है.
पीएम आवास योजना के तहत UP में 2691 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता जारी करते PM मोदी

लखनऊ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण (PMAY-G) के तहत उत्तर प्रदेश में 6.191 लाभार्थियों को लगभग 2691 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता जारी की है.

इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बीते 4 वर्षों में उत्तर प्रदेश की सरकार ने केंद्र सरकार की योजनाओं को जिस तरह से आगे बढ़ाया है. उससे उत्तर प्रदेश को नई पहचान और नई उड़ान मिली है. इसके अलावा पीएम ने कहा कि आज देश की कोशिश है कि मूलभूत सुविधाओं में गांव और शहर के बीच का अंतर कम किया जा सके. गांव में सामान्य मानव के लिए भी जीवन उतना ही आसान हो सके जितना कि बड़े शहरों में है.

अरुणाचल प्रदेश के पूर्व राज्यपाल माता प्रसाद का लखनऊ के पीजीआई में निधन

इस अवसर पर पीएम आवास योजना के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि यह है योगी सरकार की सक्रियता का परिणाम है कि यहां आवास योजना के काम की गति और तरीका बदल गया है. यूपी में करीब 22 लाख ग्रामीण आवास बनाए जाने हैं और इनमें से 21.5 लाख घरों को बनाए जाने की स्वीकृति भी दी जा चुकी है. उन्होंने यह भी कहा कि पीएम आवास योजना को शौचालय बिजली और पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं से भी जोड़ा जा रहा है.

यूपी MLC चुनाव: निर्दलीय महेश शर्मा का नामांकन रद्द, BJP-सपा की सभी सीटों पर जीत तय

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री मोदी ने एक लाभार्थी नन्हे सिंह से भी बात की जिस ने बताया कि उसका पक्का मकान तैयार हो रहा है और उस पर छत पर गई है. लगभग 1 महीने बाद उसका गृह प्रवेश भी हो जाएगा. इसके बाद प्रधानमंत्री ने लाभार्थी से पूछा कि मकान बनाने के लिए जो खर्चा आया उसके लिए किसी तरह का कर्ज तो नहीं देना पड़ा. तब लाभार्थी ने कहा कि उसने सरकार द्वारा मिली रकम से घर बनाया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें