CM योगी के पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर उतरेगा PM मोदी का हरक्यूलिस विमान, ऐसी है तैयारी

Mithilesh Kumar Patel, Last updated: Sun, 14th Nov 2021, 10:24 PM IST
  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार 16 नवंबर को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करने उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर भारतीय वायुसेना के हरक्यूलिस विमान से पहुंचेंगे. यह विमान नवनिर्मित एक्सप्रेस-वे पर लैंडिंग करेगा. इसके लिए शुक्रवार से ही वायुसेना के विमानों की लैंडिंग व टेकऑफ की रिहर्सल की जा रही है.
भारतीय वायुसेना का हरक्यूलिस विमान

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तैयारियां जोर-शोर से चल रही है. ऐसे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 16 नवंबर को यूपी पहुंचकर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करने वाले हैं. इस मौके पर सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे. उद्घाटन के दौरान पीएम मोदी और सीएम योगी के सामने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों को भी उतारा जाएगा. इसे लेकर वायुसेना की तरफ से रिहर्सल की जा रही है. उद्घाटन समारोह से पहले एक्सप्रेस-वे पर शुक्रवार को दो बार वायु सेना की विमान को लैंड कराई जा चुकी है. इसके आलावा पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर वायुसेना के विमान सी-130 हरक्यूलिस को भी रविवार को उतारा जा चुका है.

गौरतलब हो पीएम मोदी मंगलवार 16 नवंबर को यूपी के सुल्तानपुर में वायुसेना की हरक्यूलिस विमान से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन के लिए आएंगे और वे जिस विमान से आने वाले हैं वह उसी एक्सप्रेस-वे पर लैंड करने वाली है. उद्घाटन समारोह के दौरान विमानों का एयरशो भी होने वाला है. जिसमें इंडियन एयरफोर्स की फाइटर एयरक्राफ्ट सुखोई, जगुआर और मिराज फ्लाईपास्ट शिरकत करने वाली है.

अमित शाह ने दो दिवसीय दौरे में कार्यकर्ताओं को दिया यूपी चुनाव में जीत का मंत्र, कही ये बातें

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे सूबे की राजधानी लखनऊ से बाराबंकी, प्रयागराज, वाराणसी, आजमगढ़, मऊ समेत यूपी के पूर्वी हिस्सों के प्रमुख शहरों से होकर गुजरेगी. शुक्रवार को उद्घाटन समारोह की तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे सीएम योगी ने सुल्तानपुर में कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पूर्वी यूपी की अर्थव्यवस्था की रीढ़ बनेगा. जुलाई 2018 में इस एक्सप्रेस-वे की नींव पीएम नरेंद्र मोदी ने ही रखी थी. और अब नवंबर 2021 में वहीं इसका उद्घाटन करने भी पहुंच रहे हैं. उद्घाटन कार्यक्रम के बाद भारतीय एयरफोर्स के विमानों का एयर शो भी आयोजित किया जाएगा.

बता दें कि वायुसेना के लड़ाकू विमानों की आपातकालीन लैंडिंग कराने के लिए सुल्तानपुर जिले में करीब साढ़े 3 किलोमीटर के दायरे में विशेष हवाई पट्टी तैयार की गई है. और यहीं पर भारतीय वायुसेना की मिराज 2000 और Su-30MKI विमान आपातकालीन टेकऑफ़ और लैंडिंग करेंगे. इससे पहले शुक्रवार को कार्यक्रम स्थल के नजदीक भारतीय वायुसेना द्वारा पूर्वाभ्यास किया गया जहां वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे. आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे की तर्ज पर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे भी लड़ाकू विमानों की आपातकालीन लैंडिंग सुविधाएं विकसित की गई है और ये सरकार की योजना का अहम हिस्सा भी है.

यूपी चुनाव को लेकर भाजपा घोषणा पत्र समिति का गठन, सुरेश खन्ना बनाए गए अध्यक्ष

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की कुल दूरी 341 किलोमीटर है. यह एक्सप्रेस-वे लखनऊ-सुल्तानपुर राजमार्ग से होकर बाराबंकी, अमेठी, सुल्तानपुर, फैजाबाद, अंबेडकर नगर, आजमगढ़, मऊ से होकर गुजरेगी और गाजीपुर जिले में समाप्त होगी. फिलहाल 6 लेन का एक्सप्रेस-वे आगे जरूरत पड़ने पर 8 लेन तक विस्तारित की जा सकेगी. उद्घाटन के बाद लखनऊ से गाजीपुर तक का सफर 6 घंटे की बजाय करीब 3 घंटे में पूरी की जा सकेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें