PM मोदी की सुरक्षा में चूक अति निंदनीय, इस पर राजनीतिक नहीं जांच हो- मायावती

Swati Gautam, Last updated: Thu, 6th Jan 2022, 8:41 PM IST
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंजाब दौरे के दौरान हुई सुरक्षा में चूक पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा है कि पीएम मोदी जी के पंजाब दौरे के दौरान जो सुरक्षा चूक हुई है वह अति-चिन्तनीय है. इस घटना को पूरी गंभीरता से लेकर इसकी उच्च-स्तरीय निष्पक्ष जांच जरूरी है ताकि इसके लिए दोषियों को उचित सजा मिल सके तथा आगे फिर ऐसी घटना की पुनरावृति न हो.
BSP सुप्रीमो मायावती ने कहा, PM मोदी की सुरक्षा में चूक अति निंदनीय, इस पर राजनीतिक नहीं जांच हो. file photo

लखनऊ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंजाब दौरे के दौरान हुई सुरक्षा में चूक पर बुधवार को बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने चिंता जताई है और इस मुद्दे पर राजनीति करने के बजाय इसे गंभीरता से लेते हुये इसकी उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की है. बसपा सुप्रीमो ने ट्वीट कर कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के अभी हाल के पंजाब दौरे के दौरान जो सुरक्षा चूक हुई है वह अति-चिन्तनीय. इस घटना को पूरी गंभीरता से लेकर इसकी उच्च-स्तरीय निष्पक्ष जांच जरूरी है ताकि इसके लिए दोषियों को उचित सजा मिल सके तथा आगे फिर ऐसी घटना की पुनरावृति न हो.

बसपा सुप्रीमो मायावती ने दूसरा ट्वीट करते हुए लिखा कि पंजाब आदि राज्यों में होने वालेे विधानसभा आमचुनाव के मद्देनजर इस घटना को लेकर जो राजनीतिक खींचतान, आरोप-प्रत्यारोप व राजनीति की जा रही है वह भी उचित नहीं, जबकि घटना के सम्बंध में राजनीति को विराम देकर इसकी गंभीरता के अनुरूप निष्पक्ष जाँच होने देना ही उचित. बता दें कि बुधवार को पंजाब के फिरोजपुर में पीएम मोदी की एक रैली आयोजित थी जिसे संबोधित करने के लिए पीएम बठिंडा से सड़क मार्ग से जा रहे थे उसी दौरान रास्ते में सुरक्षा चूक की वजह से उन्हें वापस लौटना पड़ा था.

पाकिस्तान और बांग्लादेश से निकाले गए हिंदुओं को हम ने UP में दी जमीन और आवास- CM योगी

पीएम नरेंद्र मोदी की सुरक्षा के मामले ने बड़ा तूल पकड़ लिया है वहीं इस मुद्दे पर जमकर सियासत भी हो रही है. कोई राजनीतिक पार्टियां इस मुद्दे को भाजपा की चाल बता रही हैं तो वहीं किसान नेता राकेश टिकैत ने भी इस मुद्दे को पब्लिसिटी स्टंट कहा है. इसे लेकर गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार को तलब किया है. पंजाब सरकार ने भी जांच बैठाई है. कहा जा रहा है कि किसानों ने सड़क को जाम कर दिया था पीएम मोदी और उनके काफिले को एक ओवब्रिज पर खड़े रहना पड़ा. वह तकरीबन 15 से 20 मिनट तक खड़े रहे. और फिर बिना आगे बढ़े उन्हें वापस लौटना पड़ा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें