DGP Conference: पुलिस फोर्स के लाभ के लिए तकनीकों के विकास पर PM मोदी ने दिया जोर

ABHINAV AZAD, Last updated: Mon, 22nd Nov 2021, 7:42 AM IST
  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 56वीं अखिल भारतीय डीजीपी कॉन्फ्रेंस के समापन सत्र को संबोधित किया. इस दौरान पीएम ने तकनीकों के विकास पर जोर दिया. साथ ही उन्होंने कहा कि पुलिस की रोजमर्रा की समस्याओं के समाधान के लिए उच्च तकनीकी शिक्षा प्राप्त युवाओं की मदद ली जाए.
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 56वीं अखिल भारतीय डीजीपी कॉन्फ्रेंस के समापन सत्र को संबोधित किया.

लखनऊ. भविष्य की तकनीकों को जमीनी स्तर की पुलिस आवश्यकताओं के अनुरूप ढाल सके, इसके लिए हाई पावर पुलिस टेक्नोलॉजी मिशन का गठन किया जाएगा. इस बाबत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गृहमंत्री के नेतृत्व में एक हाई पावर पुलिस टेक्नोलॉजी मिशन गठित करने का निर्देश दिया है. प्रधानमंत्री ने कहा कि पुलिस की रोजमर्रा की समस्याओं के समाधान के लिए उच्च तकनीकी शिक्षा प्राप्त युवाओं की मदद ली जाए.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 56वीं अखिल भारतीय डीजीपी कॉन्फ्रेंस के समापन सत्र को संबोधित कर रहे थे. इस कॉन्फ्रेंस का आयोजन लखनऊ के गोमतीनगर विस्तार स्थित पुलिस मुख्यालय में किया गया. इस कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री दो दिनों तक मौजूद रहे. दरअसल, तीसरे दिन समापन सत्र में उन्होंने पुलिस से संबंधित सभी घटनाओं के विश्लेषण तथा सीखने की इस प्रक्रिया को संस्थागत करने पर जोर दिया. साथ ही पीएम ने हाइब्रिड प्रारूप में कॉन्फ्रेंस के आयोजन की तारीफ की. उन्होंने कहा कि इससे विभिन्न स्तर के अधिकारियों के बीच सूचनाओं का आदान-प्रदान आसान हुआ है.

'अंबर से ऊंचा जाना है, एक भारत नया बनाना है,' इस कविता के साथ CM योगी ने PM संग साझा की फोटो

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विशिष्ट सेवा के लिए आईबी के कर्मचारियों को राष्ट्रपति पुलिस पदक प्रदान किए. प्रधानमंत्री के निर्देश पर पहली बार कई राज्यों के आईपीएस अधिकारियों ने समसामयिक सुरक्षा मुद्दों पर अपने लेख प्रस्तुत किए. दरअसल, इस लेख से कॉन्फ्रेंस का महत्व और बढ़ गया. इससे पहले 19 नवंबर को केंद्रीय गृह मंत्री ने कॉन्फ्रेंस उदघाटन किया था. समापन सत्र में अपनी बात रखते हुए प्रधानमंत्री ने देश भर की पुलिस फोर्स के लाभ के लिए अंतर संचालन योग्य तकनीकों के विकास पर जोर दिया. साथ ही उन्होंने कहा कि ड्रोन तकनीक का उपयोग लोगों के लाभ के लिए किया जाना चाहिए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें