जहरीली हुई लखनऊ की आबोहवा, प्रदूषण बढ़ाने वाले बिल्डरों को नोटिस जारी

Smart News Team, Last updated: Tue, 24th Nov 2020, 2:10 PM IST
  • केन्द्रीय प्रदूषण बोर्ड के आंकड़ों के अनुसार देश के प्रदूषित शहरों की सूची में लखनऊ 14वें स्थान पर आ गया है. यहां के एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) में 111 प्वाइंट्स की वृद्धि हुई है.
एलडीए भवन.

लखनऊ: प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक बार फिर प्रदूषण का स्तर बढ़ने लगा है. शहर के कई बिल्डरों कि यहां प्रदूषण फैलाने वाले काफी ज्यादा तत्व मिले हैं. यहां के एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) में 111 प्वाइंट्स की वृद्धि हुई है. केन्द्रीय प्रदूषण बोर्ड के आंकड़ों के अनुसार देश के प्रदूषित शहरों की सूची में लखनऊ 14वें स्थान पर आ गया है. बोर्ड ने छह बिल्डरों को नोटिस जारी करते हुए LDA को पत्र लिखा है. बोर्ड ने अपने पत्र में कहा है कि ऐसे बिल्डरों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए.

बता दें कि, उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने मैसर्स एक्सपीरियन डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड विभूति खंड गोमती नगर‚ मैसर्स ओमेक्स इंटीग्रेटेड टाउनशिप‚ मैसर्स हलवासिया डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड‚ मैसर्स रिसिता मैनहैटन‚ सरसांवा सुल्तानपुर रोड तथा अंबे इंफ्रा हाईटेक प्राइवेट लिमिटेड विभूति खंड गोमती नगर को नोटिस जारी किया है.

लखनऊ: सर्द हवाओं के चलते तापमान में गिरावट, बढ़ी गलन

केन्द्रीय प्रदूषण बोर्ड से मिले पत्र के बाद LDA के अधिकारियों का कहना है कि बिल्डरों को प्राधिकरण की तरफ से भी नोटिस दी जाएगी न मानने पर उनका नक्शा निरस्त किया जाएगा.

एक क्लिक में मिलेगी राशन की दुकान के बारे में जानकारी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें