लखनऊ: इनामी बदमाश रामकरण सहित 7 बदमाश काकोरी-पीजीआई से गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: 21/11/2020 10:33 AM IST
  • पुलिस ने रामकरण को काकोरी के चौकारी से गिरफ्तार किया है और इनके साथ अमित उपाध्याय को वृंदावन सेक्टर-8 से गिरफ्तार किया गया है इसके साथ उनके साथियों को गिरफ्तार किया गया है. दोनों ही गिरोह लूटपाट में माहिर थे और अक्सर रेलगाड़ी और सड़क पर आने जाने मुसाफिरों से छीना-छपटी करते थे.
काकोरी और पीजीआई से इनामी बदमाश रामकरण और उसके साथियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. (प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ. शुक्रवार को पुलिस ने इनामी बदमाश रामकरण और अमित उपाध्याय को दबोच लिया है. पुलिस ने रामकरण को काकोरी के चौकारी से गिरफ्तार किया है और इनके साथ अमित उपाध्याय को वृंदावन सेक्टर-8 से गिरफ्तार किया गया है इसके साथ उनके साथियों को गिरफ्तार किया गया है. दोनों ही गिरोह लूटपाट में माहिर थे और अक्सर रेलगाड़ी और सड़क पर आने जाने मुसाफिरों से लूटापाट करते थे.

मामले पर जानकारी देते हुए एसीपी सै. कासिम आब्दी ने बताया है टीएमएस के पास पुलिस ने पास पुलिस चेकिंग लगी थी.  दो बाइक सवार वहां से गुजर रहे थे तो पुलिस ने रोकन की कोशिश की तो वो नहीं रुके. इस पर पुलिस ने घेराबंदी की तो बदमाशों ने पुलिसकर्मीयों पर फायरिंग करनी शुरु कर दी. जवाव में पुलिस को भी फायरिंग करनी पड़ी जिसमें इनामी बदमाश रामकरण घायल हो गयी जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. साथ ही इंस्पेक्टर प्रमोद सिंह और क्राइम ब्रांच की टीम ने रामकरण के साथी शिवम तिवरी, शक्ति और को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. 

लखनऊ: बालिका दिवस पर कई थानों में लड़कियों ने थाना प्रभारी बन संभाला काम

बताया जा रहा है कि रामकरण का गिरोह पहले रेलगाड़ियों में लूटपाट करता था लेकिन लॉकडाउन में रेलगाड़ियां बंद होने के कारण उन्हें इसमें बदलाव करना पड़ा. अब वो सड़क पर चलने वाले वाहनों को अपना निशाना बनाते थे. रामकरण पर पुलिस थानों में दर्जनों केस थे. साथ ही पुलिस ने उस पर 15 हजार रुपये का इनाम भी रखा था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें