लखनऊ में रैपर बादशाह के कार्यक्रम में लड़कियों से छेड़खानी, मूकदर्शक बनी रही पुलिस

ABHINAV AZAD, Last updated: Mon, 1st Nov 2021, 1:21 PM IST
  • लखनऊ में विकास दीपोत्सव की चौथी शाम रैपर बादशाह का प्रोग्राम था. लेकिन इस दौरान पुलिस प्रशासन भीड़ को संभालने में नाकाम रही. पूरे प्रोग्राम के दौरान अराजकता का माहौल बना रहा.
(प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ. झूलेलाल पार्क में चल रहे विकास दीपोत्सव की चौथी शाम रैपर बादशाह को सुनने के लिए हजारों की तादाद में लोग आए. लेकिन पुलिस इस भीड़ को नियंत्रित करने में पुलिस फेल हो गई. आलम यह रहा कि युवाओं ने कुर्सियों के लिहाफ का बंडल बनाकर चीफ गेस्ट नीरज बोरा व मेयर संयुक्ता भाटिया की ओर तक फेंके. अतिउत्साहित युवा यहीं नहीं रूके, बल्कि भीड़ में लड़कियों से छेड़खानी भी होती रही. लेकिन पुलिस-प्रशासन मूकदर्शक बनी रही.

बताते चलें कि नगर निगम और प्रशासन की ओर से झूलेलाल पार्क विकास दीपोत्सव का आयोजन किया गया है. इसके तहत रविवार को बॉलीवुड नाइट में मशहूर रैपर बादशाह प्रोग्राम था. युवाओं में रैपर बादशाह के प्रति दीवानगी अपने चरम पर था. इस बात का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि बादशाह के मंच पर आने से तीन घंटे पहले ही पूरा पंडाल व आसपास की जगह फुल हो गई थी. कुर्सियों पर न बैठने की जगह थी, न ही बाहर खड़े होने के लिए जगह थी.

सपा MLA राकेश प्रताप सिंह ने दिया इस्तीफा, योगी सरकार पर लगाया वादाखिलाफी का आरोप

बताया जा रहा है कि इस प्रोग्राम में बैरिकेडिंग के पास लड़कियों का खासा जमावड़ा था. कुर्सियों के लिहाफ से गोला बनाकर फेंकने के बाद उपद्रवियों ने छेड़खानी भी की. लेकिन उपद्रवियों को भीड़ की वजह से पहचाना नहीं जा सका. जब पुलिस से शिकायत की गई तो भीड़ के कारण उन्हें पुलिसवालों ने चलता कर दिया गया, जबकि बादशाह के जाने के बाद परिवार के साथ आई लड़कियां तब तक रुकी रहीं, जब तक भीड़ छंट नहीं गई. साथ ही इसके अलावा भीड़ में कई दर्शकों के पर्स भी पार हो गए. यही नहीं, लोगों के मोबाइल भी शातिरों ने पार कर दिए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें