लखनऊ के प्रदूषण में आई 10 प्वाइंट की कमी, दिल्ली से भी ज्यादा जहरीली हवा

Smart News Team, Last updated: Fri, 9th Oct 2020, 11:39 PM IST
  • लखनऊ के प्रदूषण स्तर में हल्की गिरावट आई है. लखनऊ का 10 प्वाइंट एक्यूआई कम हुआ लेकिन लखनऊ अब भी देश के सबसे प्रदूषित नौ शहरों में आता है.
लखनऊ के प्रदूषण स्तर में 10 प्वाइंट की कमी देखी गई है.

लखनऊ. लखनऊ की हवा दिनों-दिन जहरीली होती जा रही है. लखनऊ में वायु प्रदूषण को मापने की इकाई एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) का पैमाना 250 माइक्रोग्राम दर्ज किया गया. जो दिल्ली से भी ज्यादा है. दिल्ली में 208 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर दर्ज किया गया.  

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की देखरेख में एक्यूआई में 10 पॉइंट की कमी देखी गई जो बुधवार को 260 से घटकर गुरुवार तक 250 हो गई. लखनऊ देश के सबसे प्रदूषित शहरों की सूची में नौवें स्थान पर है. वही पहला स्थान पर मुरादाबाद 296 माइक्रोग्राम अंकों के साथ है. कानपुर में एक्यूआई का आंकड़ा 219 रिकॉर्ड किया गया.

कोरोना को लेकर CM योगी का आदेश DM और CMO बरतें मेरठ, लखनऊ, वाराणसी में सावधानी

गुरुवार को डीएम ने लखनऊ में ग्रीन नेट, पीटीजेड कैमरे लगाने के निर्देश दिए. राजधानी में प्रदूषण को कम करने के लिए एंटी स्मॉग गन का उपयोग निर्माण स्थल पर अनिवार्य कर दिया गया है. एंटी स्मॉग गन का काम लगभग 50 मीटर की ऊंचाई तक पानी को छोटी-छोटी बूंदों में बदलकर तेज फुहार छोड़ना है. प्रदूषण नियंत्रण क्षेत्रीय अधिकारी डॉ रामकरण ने निर्माण इकाइयों के लिए सेल्फ डस्ट कंट्रोल ऑडिट की प्रक्रिया dustapp.upecp.in पर करना अनिवार्य बताया.

लखनऊ: नाले में गिरा ट्रैक्टर, नाबालिग ड्राइवर की मौत, मालिक पर केस दर्ज

निजी वाहनों से बढ़ रहे प्रदूषण को कम करने के लिए भारतीय विषविज्ञान अनुसंधान ने एक रिपोर्ट में वायु प्रदूषण कम करने के सुझाव दिए हैं. एक रिपोर्ट के अनुसार सिटी बस के यात्रियों में 50 फ़ीसदी की कमी देखी गई वही पिछले एक साल में दो लाख नए वाहनों का पंजीकरण किया गया जो कि प्रदूषण का एक बड़ा कारण माना जा रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें