कोरोना के चलते यूपी बोर्ड की परीक्षाएं अप्रैल में कराने की तैयारी

Smart News Team, Last updated: Thu, 12th Nov 2020, 1:44 PM IST
  • यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा अप्रैल 2021 में होने की संभावना बन रही है. बोर्ड जल्द ही प्रैक्टिकल परीक्षाओं की तारीखों की आधिकारिक सूचना जारी कर सकता है.
यूपी बोर्ड

लखनऊ: कोरोना संक्रमण काल में यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा अप्रैल 2021 में होने की संभावना बन रही है. कोरोना काल में केंद्र निर्धारण से लेकर प्रायोगिक परीक्षा तक पिछड़ गई है. वहीं, फरवरी और मार्च में प्रस्तावित पंचायत चुनाव भी बोर्ड परीक्षा में बड़ी अड़चन पैदा कर सकता है. हालांकि बोर्ड के अधिकारी अपनी तैयारी पूरी होने का दावा कर रहे हैं. बोर्ड जल्द ही प्रैक्टिकल परीक्षाओं की तारीखों की आधिकारिक सूचना जारी कर सकता है.

गौरतलब है कि यूपी बोर्ड ने 2021 की परीक्षा के लिए केंद्र निर्धारण का प्रस्ताव पहले ही शासन को भेज दिया था. पूर्व के वर्षों में परीक्षा को लेकर अक्टूबर के दूसरे या तीसरे सप्ताह तक केंद्र निर्धारण की नीति जारी हो जाती थी. लेकिन इस साल अब तक नीति फाइनल नहीं हो सकी है. इसके पीछे बड़ा कारण कोरोना है. विभाग के अफसर यही तय नहीं कर पा रहे हैं परीक्षा केंद्र सोशल डिस्टेंसिंग के आधार पर तय होंगे या पूर्व के वर्षों की तरह बनेंगे.

लखनऊ: शहर के प्रमुख बाजारों में 16 तक वाहनों पर रोक

आपको बता दें कि, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन होने पर डेढ़ या दोगुने परीक्षा केंद्र बनाने होंगे जिससे परीक्षा का खर्च भी काफी बढ़ जाएगा. केंद्र बनाने में कम से कम डेढ़ महीने का समय लगेगा. वहीं, पूर्व के वर्षों में इंटर की प्रायोगिक परीक्षा पूर्व के वर्षों में 15 दिसंबर से शुरू होकर तकरीबन एक महीने में होती थी. जबकि इस साल फरवरी के पहले या दूसरे सप्ताह में प्रैक्टिकल शुरू करने की तैयारी है, जो मार्च मध्य तक जाएगा.

यूपी में लखनऊ समेत 12 जिलों में पटाखों के लाइसेंस स्थगित

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें