जरूरत पड़े तो एंबुलेंस के लिए रोक दिया जाए मेरा काफिला: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

Smart News Team, Last updated: Fri, 27th Aug 2021, 6:08 PM IST
  • राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि यदि आवश्यकता पड़े तो मेरा काफिला रोक के एम्बुलेंस को जाने का रास्ता दिया जाए. उन्होंने कहा कि प्रशासन कोई ऐसा समाधान निकाले जिससे वीवीआइपी के मूवमेंट के दौरान भी एम्बुलेंस को रास्ता दिया जा सके.
राष्ट्रपति ने कहा कि यदि आवश्यकता पड़े तो मेरा काफिला रोक के एम्बुलेंस को जाने का रास्ता दिया जाए.

लखनऊ. महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपने चार दिवसीय उत्तर प्रदेश दौरे पर हैं. उन्होंने अपने दौरे के पहले दिन बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर यूनिवर्सिटी के 9 वें दीक्षांत समारोह में हिस्सा लिया. इससे पहले लखनऊ पहुंचने के बाद राष्ट्र्पति का जोरदार स्वागत किया गया. इस दौरान राष्ट्र्पति के साथ CM योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी मौजूद रहे. शुक्रवार को महामहिम राष्ट्रपति उत्तर प्रदेश सैनिक स्कूल हीरक जयंती वर्ष के समापन अवसर पर संपूर्णानंद सभागार में मुख्य अतिथि के रुप में मौजूद रहे.

इस दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि यदि आवश्यकता पड़े तो मेरा काफिला रोक के एम्बुलेंस को जाने का रास्ता दिया जाए. उन्होंने कहा कि प्रशासन कोई ऐसा समाधान निकाले जिससे वीवीआइपी के मूवमेंट के दौरान भी एम्बुलेंस को रास्ता दिया जा सके. सैनिक स्कूल हीरक जयंती वर्ष के समापन अवसर पर संपूर्णानंद सभागार में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे राष्ट्रपति के अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा समेत कई गणमान्य लोग उपस्थित रहे. इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने परमवीर चक्र विजेता कैप्टन मनोज पांडे उत्तर प्रदेश सैनिक स्कूल आने पर खुशी जताई. उन्होंने कहा कि वीआईपी मूवमेंट के समय ट्रैफिक व्यवस्था को बहुत समय पूर्व रूप देने की परंपरा और सुझाव देते हुए कहा की अधिकतम 10 से 15 मिनट पहले ही ट्रैफिक रोका जाना चाहिए. ताकि, किसी भी नागरिक को किसी प्रकार की सुविधा नहीं हो. उन्होंने आगे कहा कि इसमें प्रशासन के साथ-साथ जन सहभागिता और जागरूकता बहुत महत्वपूर्ण है.

राष्ट्रपति कोविंद 4 दिवसीय दौरे पर UP पहुंचे, BBAU के 9वें दीक्षांत समारोह में हुए शामिल

इस मौके पर राष्ट्रपति ने अपने अब तक कार्यकाल में कारगिल नहीं जाने पर खेद जताया. लेकिन इस दौरान महामहिम ने संकल्प दोहराया कि वह इस साल निश्चित तौर पर कारगिल जाएंगे और शहीदों को नमन करेंगे. गौरतलब है कि महामहिम राष्ट्रपति अपने चार दिन के उत्तर प्रदेश दौरे पर हैं. राष्ट्रपति 28 अगस्त को गोरखपुर में आयुष यूनिवर्सिटी का शिलान्यास करेंगे. जबकि अपने दौरे के आखिरी दिन महामहिम राष्ट्रपति अयोध्या में रामलला के दर्शन करेंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें