लखीमपुर खीरी में किसानों की अंतिम अरदास के मंच पर राजनेताओं को जगह नहीं: मोर्चा

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Mon, 11th Oct 2021, 8:42 PM IST
  • Lakhimpur Kheri violence भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने सोमवार को कहा कि लखीमपुर खीरी में होने वाले किसानों कि अंतिम प्रार्थन में किसी में राजनेता के साथ मंच सांझा नहीं किया जाएगा. लखीमपुर खीरी हिंसा में मृत किसानों की अंतिम अरदास' मंगलवार को तिकोनिया में होगा.
किसानों के अंतिम प्रार्थना के दौरान किसी राजनेता से नहीं सांझा होगा मंच: टिकैत

लखनऊ. भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने सोमवार को स्पष्ट किया कि मंगलवार को लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए किसानों की अंतिम प्रार्थना के समय कोई भी राजनेता मंच सांझा नहीं किया जाएगा. पीटीआई के अनुसार बीकेयू जिलाध्यक्ष अमनदीप सिंह संधू ने कहा कि सभी मृत किसानों के लिए अंतिम अरदास मंगलवार को तिकोनिया में होगा. इकाई के जिला उपाध्यक्ष बलकार सिंह ने रेखांकित किया कि विरोध करने वाले किसान संगठन और संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) के नेताओं को छोड़कर किसी अन्य राजनेता को मंच पर उपस्थित होने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

जिलाध्यक्ष संधू ने कहा कि तिकोनिया में अरदास' और भोग कार्यक्रम के दौरान विभिन्न राज्यों के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों के किसान और किसान नेता मौजूद रहेंगे. उन्होंने कहा कि अभी तक अंतिम अरदास और भोग को छोड़कर किसी अन्य कार्यक्रम की सूचना नहीं दी गई है. बलकार सिंह ने आगे कहा कि किसी भी राजनीतिक नेता को मंच साझा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. वहां पर केवल संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के नेता मौजूद होंगे.

लखीमपुर खीरी हिंसा: अजय मिश्रा टेनी के इस्तीफे की मांग पर अड़ी प्रियंका गांधी का आज मौन व्रत

अंतिम प्रार्थना या अंतिम अरदास की तैयारी उस जगह से दूर एक खेत में चल रही है, जहां कथित तौर पर भाजपा कार्यकर्ताओं और केंद्रीय मंत्री आशीष मिश्रा के बेटे वाली एक एसयूवी ने विरोध कर रहे चार किसानों को कुचल दिया था.

बता दें कि लखीमपुर खीरी हिंसा में 3 अक्टूबर को आठ लोगों की मौत हो गई थी. जिसमें चार किसानों के अलावा, एक स्थानीय पत्रकार, दो भाजपा कार्यकर्ता और एसयूवी के ड्राइवर की मौत हुई थी. किसानों का दावा है कि एक वाहन में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा का बेटा आशीष मिश्रा था. आशीष मिश्रा को सोमवार को उत्तर प्रदेश पुलिस की तीन दिन की हिरासत में भेज दिया गया. आशीष मिश्रा को उत्तर प्रदेश पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार किया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें