मायावती की आधी जमीन कब्जाने आया हूं, BSP को धक्का देगी RPI: रामदास आठवले

Shubham Bajpai, Last updated: Wed, 27th Oct 2021, 5:12 PM IST
  • केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने यूपी चुनाव में बीजेपी की तरफ से फील्डिंग करते हुए कहा है कि बसपा सुप्रीमो मायावती बहन हैं लेकिन वो बीएसपी की आधी जमीन पर कब्जा करने यूपी आए हैं. आठवले ने अपने अंदाजा में नारा दिया- इस बार तो ये है पक्का, आरपीआई बीएसपी को देगी धक्का. 
मायावती की आधी जमीन कब्जाने आया हूं, BSP को धक्का देगी RPI: रामदास आठवले

लखनऊ. यूपी विधानसभा चुनाव से पहले रिपब्लिकन पार्टी और इंडिया के प्रमुख व केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्य मंत्री रामदास आठवले भी सक्रिय नजर आ रहे हैं. रामदास ने कहा कि वो इस बार यूपी चुनाव में भाजपा से 10 सीट मांगेंगे. हम इस विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी को हराने का काम करेंगे. मैं यहां मायावती की आधा जमीन कब्जा करने आया हूं जो वो देने को तैयार नहीं हैं. इस दौरान आठवले ने योगी सरकार की जमकर तारीफ की और कहा कि 2022 में यूपी में दोबारा योगी सरकार बनेगी. लखनऊ के इस दौरे में रामदास एक ब्राह्मण सम्मेलन में भी शामिल हुए.

18 दिसंबर को लखनऊ में करेंगे बहुजन सम्मेलन

रामदास ने प्रेसवार्ता में कहा कि उनकी पार्टी लखनऊ के रमाबाई अंबेडकर पार्क में 18 दिंसबर को बहुजन सम्मेलन का आयोजन करेगी. उस सम्मेलन के सफल होने के बाद हम भाजपा से गठबंधन के तहत 10 सीटें मांगेंगे. हम यूपी में बसपा को हराने आए हैं. मैं मायावती को अपनी बहन मानता हूं लेकिन वो मुझे अपना भाई नहीं मानती है. इस बार बसपा को आरपीआई धक्का देगी.

बंगाल के खेला होबे के रंग में अखिलेश-राजभर गठबंधन, यूपी में खदेड़ा होबे नारा दिया

200 में दोबारा आएगी भाजपा सरकार, होंगी 300 सीटें पार

आठवले ने यूपी चुनाव को लेकर दावा किया कि 2022 में यूपी में फिर से योगी सरकार आएगी. इस बार भाजपा 300 से अधिक सीटें लेकर सत्ता में काबिज होगी.

कांग्रेस सेक्युलर तो राहुल गांधी की करवाए दलित बेटी से शादी

कांग्रेस पर जातिवाद को लेकर हमला बोलते हुए आठवले ने कहा कि जातिवाद कांग्रेस की देन है. यदि वो सेक्युलर हैं तो राहुल गांधी की शादी एक दलित लड़की से करवा दें. जिससे उनका तो मन अशांत रहता है वो भी कम होगा. साथ ही उन्होंने महंगाई का दोषी भी कांग्रेस को बताया. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार महंगाई दूर करने की कोशिश कर रही है.

UP Assembly Elections 2022 की तैयारी में जुटी BJP, कई छोटे दलों के साथ किया गठबंधन

कृषि कानून से पीछे नहीं हट सकते हो सकता बदलाव

कृषि कानून को लेकर काफी समय से चल रहे विरोध को लेकर कहा कि तीनों कानून किसानों के हित में हैं और इन कानून से पीछे नहीं हटा जा सकता है. हालांकि इसमें बदलाव किए जा सकते हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें