UP में आज रिकॉर्ड 25 करोड़ पौधारोपण, CM योगी सुल्तानपुर में लगाएंगे पौधे

Smart News Team, Last updated: Sun, 4th Jul 2021, 2:57 PM IST
  • उत्तर प्रदेश में आज रिकॉर्ड 25 करोड़ पौधे का रोपण किया जाएगा. इस दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सुल्तानपुर में पौधे का रोपण करेंगे. वही राज्य की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल झांसी में, उप मुख्यमंत्री लखनऊ और केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पौधारोपण कार्यक्रम में भाग लेंगे.
वर्तमान सरकार ने अब तक प्रदेश भर में 100 करोड़ पौधे का रोपण कर चुका है. (प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ : उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से पूरे प्रदेश भर में रविवार के दिन पच्चीस करोड़ पौधों का रोपण किया जाएगा. प्रदेश के इस पौधारोपण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ सरकार के सभी बड़े मंत्री, विधायक, जिला प्रभारी इसमें शामिल होंगे. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज सुल्तानपुर में पौधे का रोपण करेंगे. इस दौरान सीएम के साथ वन मंत्री दारा सिंह चौहान भी मौजूद रहेंगे. पूरे प्रदेश में एक दिन में करीब 25 करोड़ पौधे का वृक्षारोपण करने का टारगेट निर्धारित किया गया है. जो अपने आप में एक नया रिकॉर्ड बनाएगा.

प्रदेश की सरकार इससे पहले भी बड़े स्तर पर वृक्षारोपण का कार्यक्रम किया है. पिछले रिकार्डो पर नजर डाले तो यूपी की सरकार ने साल 2017 और 2018 के बीच करीब 5 करोड़ 71 लाख पौधे लगाए थे. वही साल 2018 और 19 के दौरान 11 करोड़ 77 लाख पौधे लगाकर वृक्षारोपण करने का संदेश दिया गया. जबकि साल 2019 और 20 के समय प्रदेश की सरकार ने पिछले बार की अपेक्षा दोगुना करीब 22 करोड़ 59 लाख पौधा लगाया गया. साल 2020 और 21 में करीब 25 करोड़ 87 लाख प्राणदायक पौधे लगाए गए. वहीं यह साल जो योगी सरकार का अंतिम कार्यकाल है. उसमें करीब 30 करोड़ पौधे को लगाने का लक्ष्य है. जिसमें से करीब 5 करोड़ पौधे प्रदेश के किसानों की सहायता से लगाए गए हैं.

लेह और लद्दाख जानें वालों की डिमांड बढ़ी, IRCTC ने लांच किया तीसरा पैकेज

आज के इस पौधारोपण कार्यक्रम में सीएम योगी के अलावा प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल झांसी के जिला में वृक्षारोपण करेंगी. वही प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य लखनऊ शहर में पौधे को रोपित करेंगे. जबकि प्रदेश के सभी मंत्री और जिला के प्रभारी मंत्री अपने अपने इलाकों में पौधारोपण कार्यक्रम करके पौधा लगाकर वृक्षारोपण को बढ़ावा देंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें