UP में ग्राम पंचायत के लिए जारी नहीं हुआ आरक्षण लेकिन गणित बिठाने लगे उम्मीदवार

Smart News Team, Last updated: Mon, 15th Feb 2021, 3:51 PM IST
यूपी पंचायत चुनाव में सभी ग्राम पंचायतों के लिए आरक्षण चार्ट घोषित नहीं हुआ है लेकिन उम्मीदवारों ने अपने दावेदार खोजना शुरू कर दिए हैं. चूंकि जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए जिस तरह से महिलाओं के लिए सीट आरक्षित की गई है उसके बाद ग्राम पंचायतों में भी उम्मीदवार महिला के रूप में अपने विकल्प की खोज कर रहे हैं.
ग्राम पंचायतों के लिए आरक्षण चार्ट की घोषणा नहीं हुई है लेकिन उम्मीदवारों ने अपने महिला विकल्प की खोज शुरू कर दी है.

लखनऊ. आगामी महीनों में यूपी में पंचायत चुनाव होने वाले हैं जिसके लिए अब गांवों में सरगर्मी बढ़ गई है। जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए आरक्षण चार्ट जारी हो चुका है. अब कुछ दिनों में ग्राम पंचायतों के लिए भी आरक्षण चार्ट जारी होगा. ग्राम पंचायतों का आरक्षण जानने के लिए ग्रामीणों ने जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय के चक्कर लगाने शुरू कर दिए हैं। उम्मीदवार हर तरीके से अपना गणित बिठाने की तैयारी कर रहे हैं.

आपको बात दें कि शासन ने ग्राम प्रधान की आरक्षित सीटों की संख्या तो बता दी है, लेकिन अभी ग्राम पंचायतों के लिए आरक्षण जारी नहीं हो पाया है. जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए जिस तरीके से सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित की गई है उसके बाद दावेदार अपने घर की महिलाओं को चुनावी मैदान में उतारने की तैयारी कर रहे हैं. इसके लिए दावेदार अपनी मां, बहन और भाभी से बात कर रहे हैं. इसलिए ही ग्राम पंचायतों का आरक्षण जानने के लिए ग्रामीण नेता जिला पंचायतराज अधिकारी कार्यालय पहुंच रहे हैं. हालांकि अभी उन्हें इसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल रही है.

UP पंचायत चुनाव 2021 में पूरी तैयारी के साथ उतरेगी भाजपा

जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश में इस बार जिला पंचायत अध्यक्ष के 75 पदों में से 25 पदों पर महिलाएं शामिल होंगी. इस बार होने जा रहे त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव में ब्लॉक प्रमुख के पदों पर महिलाओं की संख्या बढ़ेगी। इसके अलावा ग्राम प्रधान पदों के आरक्षण में महिलाओं का हिस्सा फिलहाल कम हो गया है. आरक्षण चार्ट के अनुसार जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर 12 सामान्य महिलाएं, 7 ओबीसी महिलाएं और 6 अनुसूचित जाति की महिलाएं रहेंगी. पंचायतीराज विभाग के अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह व निदेशक किंजल सिंह ने बताया कि प्रदेश में महिलाओं के लिए ब्लॉक प्रमुख के कुल 300 पद आरक्षित किये गये हैं. इनमें से चार पद अनुसूचित जनजाति की महिलाओं के लिए, 86 पद अनुसूचित जाति की महिलाओं के लिए और 97 पद अन्य पिछड़ा वर्ग की महिलाओं के लिए आरक्षित हैं. सामान्य वर्ग की महिलाओं के लिए 113 पदों रहेंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें