लखनऊ: पूर्व आवास विकास अधिकारी और उनकी पत्नी की दो दिनों में ही जान ले गया कोरोन

Smart News Team, Last updated: Mon, 19th Apr 2021, 6:49 PM IST
लखनऊ में आवास विकास परिषद के रिटायर्ड प्रशासनिक अधिकारी अहिबरन लाल पाल और उनकी पत्नी सावित्री पाल की दो दिन के अंदर ही कोरोना संक्रमण से मृत्यु हो गया. जिससे उनकी चारों बेटियों के ऊपर से माता पिता का साया हट गया.
कोरोना संक्रमण से मौत. (प्रतीकात्मक चित्र)

लखनऊ : कोरोना से लखनऊ में रोजाना कई परिवार उजड़ रहे हैं. लखनऊ में 18 अप्रैल और 19 अप्रैल को एक ही परिवार के दो लोगों की मौत कोरोना संक्रमण से हो गया. उत्तर प्रदेश आवास विकास परिषद के रिटायर्ड प्रशासनिक अधिकारी अहिबरन लाल पाल का 18 अप्रैल को निधन हुआ. उसके अगले दिन 19 अप्रैल को उनकी पत्नी सावित्री पाल का निधन हो गया. दोनों के निधन से उनकी चारों बेटियों अकेली हो गई.

अहिबरन लाल का राजाजीपुरम इलाके में उनका घर है. जहां हम लोग कुछ दिन पहले ही कोरोना संक्रमण हुआ. साथ में उनकी पत्नी सावित्री पाल भी संक्रमित हो गई. अहिबरन पाल संक्रमित होने के दिन 4 दिनों तक वह स्वस्थ महसूस कर थे. लेकिन अचानक उनकी तबीयत खराब होने की वजह से उनको अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां उनका इलाज 1 हफ्ते तक चला. जहां रविवार को उनकी मृत्यु हो गई. पति के मृत्यु की खबर सावित्री पाल को दी गई. खबर सुनते ही उनकी हालत गंभीर हो गई. इस स्थिति में सोमवार को उनको केजीएमयू में भर्ती कराया गया. जहां सावित्री पाल का निधन हो गया.

इलाहाबाद HC का बड़ा आदेश-लखनऊ, कानपुर समेत यूपी के इन पांच जिलों में लगे लॉकडाउन

माता-पिता के मरने की वजह से पूरा परिवार दुःख में है. मृतक माता पिता का अंतिम संस्कार मझली बेटी ने निभाया. रिटायर्ड पिता अहिबरन लाल पाल अपनी छोटी बेटी की शादी बड़े धूम धाम से करने का सपना था. उसके बाद तीर्थ यात्रा पर चले जाने की बात लोगों से कहते थे. लेकिन कोरोना की वजह से उनका सपना पूरा न हो सका.

योगी सरकार का बड़ा फैसला- रेमडेस‍िविर दवा की कालाबाजारी करने पर लगेगी रासुका, जानिए नए दिशा-निर्देश

राहत : राज्यों को ऑक्सीजन की सप्लाई के लिए रेलवे का स्पेशल प्लान, जानें डिटेल

देशभर में कोरोना मरीजों की जान बचाएगी ऑक्सीजन एक्सप्रेस, ग्रीन कॉरिडोर की तैयारी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें