चाट के चक्कर में उड़ गई गठबंधन की हवा, नहीं हो रहा कांग्रेस-RLD गठबंधन!

Somya Sri, Last updated: Mon, 1st Nov 2021, 12:19 PM IST
  • रालोद पार्टी के सूत्रों ने साफ किया है कि उनकी कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन की कोई संभावना नहीं है. सूत्रों का कहना है कि एक मशहूर दुकान से चाट मंगवाई गयी थी. डिलीवरी में वक्त लग गया इसलिए जयंत चौधरी प्रियंका गांधी के साथ ही चार्टर्ड फ्लाइट से दिल्ली के लिए रवाना हो गए. हाल ही में रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी एक साथ चार्टर्ड फ्लाइट में नजर आए थे. जिसके बाद से राजनीतिक गलियारों में गठबंधन की कयासबाजी शुरू हो गयी थी.
चाट के चक्कर में उड़ गई गठबंधन की हवा, नहीं हो रहा कांग्रेस-RLD गठबंधन! (फोटो साभार- लाइव हिंदुस्तान)

लखनऊ: हाल ही में राष्ट्रीय लोक दल के अध्यक्ष जयंत चौधरी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी एक साथ चार्टर्ड फ्लाइट में नजर आए थे. जिसके बाद से राजनीतिक गलियारों में गठबंधन की कयासबाजी शुरू हो गयी थी. कयास लगाए जा रहे थे कि क्या उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर कांग्रेस और रालोद गठबंधन कर सकते है क्या. लेकिन अब इन सभी कयासों पर विराम लगता दिख रहा है. दरअसल, रालोद पार्टी के सूत्रों ने साफ किया है कि उनकी कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन की कोई संभावना नहीं है. सूत्रों का कहना है कि एक मशहूर दुकान से चाट मंगवाई गयी थी. डिलीवरी में वक्त लग गया इसलिए जयंत चौधरी प्रियंका गांधी के साथ ही चार्टर्ड फ्लाइट से दिल्ली के लिए रवाना हो गए.

बता दें कि रविवार को लखनऊ हवाई अड्डे के लाउंज में रालोद अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को साथ देखा गया था. दोनों के बीच बातचीत भी हुई थी. दोनों ही नेताओं को दिल्ली रवाना होना था. जयंत लखनऊ में पार्टी का घोषणापत्र जारी करने के लिए पहुंचे थे. वहीं प्रियंका गोरखपुर में कांग्रेस की प्रतिज्ञा रैली करने के बाद लौट रहीं थीं. बातचीत के बाद दोनों कांग्रेस के विमान से ही दिल्ली रवाना हो गए. इस मुलाकात के बाद से ही सियासी मायने निकाले जाने लगें.

मोहम्मद शमी को सपोर्ट करने पर विराट कोहली हुए ट्रोल, बेटी वामिका को रेप की धमकी

हालांकि रालोद के सूत्रों ने इन कयासों पर विराम लगा दिया है. उनका कहना है कि कांग्रेस के साथ गठबंधन की कोई संभावना नहीं है. सूत्रों के अनुसार दोनों का एक ही प्लेन में आना एक संयोग की बात है क्योंकि इधर एक मशहूर दुकान से चाट मंगवाई गयी थी. सूत्रों ने कहा कि चाट की डिलीवरी में समय लग गया जिस वजह से जयंत चौधरी प्रियंका गांधी के साथ दिल्ली रवाना हो गए. मालूम हो कि यूपी चुनाव में अब ज्यादा वक्त नहीं बचा है. सभी राजनीतिक दल चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं. इस दौरान अगर किसी भी दो राजनीतिक दलों की मुलाकात होती है तो गठबंधन जैसे कयास सामने आना आम सी बात हो जाती है. लेकिन यहीं कयासबाजी राजनीतिक गलियारों में हलचल पैदा करने लगते हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें