रालोद नेता हाजी यूनुस के काफिले पर फायरिंग, एक की मौत, चार घायल

Uttam Kumar, Last updated: Mon, 6th Dec 2021, 8:54 AM IST
  • रालोद नेता हाजी यूनुस के काफिले पर रविवार दोपहर तीन बजे आज्ञात बदमाशों ने हमला कर दिया. हमलावरों द्वारा करीब 60 राउंड फायरिंग की गई. जिसमें रालोद नेता के एक समर्थक खालिद की मौत हो गई, जबकि चार लोग गंभीर रूप से घायल हैं.
रलोद नेता हाजी यूनुस के काफिले पर फायरिंग, एक की मौत. (प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ. दो दिन पहले बसपा छोड़कर रालोद में शामिल हुए रालोद नेता हाजी यूनुस के काफिले पर रविवार दोपहर तीन बजे अज्ञात लोगों ने हमला कर दिया. हमलवार की तरफ से हाजी यूनुस के काफिले पर करीब 60 राउंड फायरिंग की गई. जिसके कारण रालोद नेता के एक समर्थक खालिद की मौत हो गई, जबकि चार लोग गंभीर रूप से घायल हैं. हमला के वक्त रालोद नेता यूनुस भाईपुरा गांव में एक शादी समारोह में शामिल होने के बाद वापस बुलंदशहर लौट रहे थे. रालोद नेता यूनुस ने हमला कराने का आरोप पूर्व विधायक व बड़े भाई मरहूम हाजी अलीम के बेटे अनस पर लगाया है. आरोपी अनस अपने पिता की हत्या के आरोप में जेल में बंद है.  

दरअसल रालोद नेता यूनुस एक शादी समारोह में शामिल होने नई मंडी चौकी क्षेत्र के भाईपूरा गांव गए थे. शादी समारोह से लौटते समय काफिले में सबसे आगे हाजी युनूस की ऑडी कार थी, जिसमें वह पिछली सीट पर अन्य लोगों के साथ बैठे थे. उनके पीछे फॉर्च्यूनर और दो अन्य गाड़ियां भी थीं. रालोद नेता का काफिला रजवाहे की पुलिया के पास पहुंचते ही अज्ञात हमलावरों ने स्वचालित हथियारों से फायरिंग शुरू कर दी. 

लखीमपुर हिंसा को दो माह पूरे, अखिलेश बोले- किसानों की याद में जलाएं दीये, याद दिलाएं BJP की क्रूरता

फायरिंग के दौरान ऑडी और फॉर्च्यूनर में सवार लोग गंभीर रुप से घायल हो गए. घायल खालिद, राशिद, शादाब, अफजल और शमी आलम को इलाज के लिए पहले जिला अस्पताल ले जाया गया. बाद में उन्हें मेरठ और नोएडा ले जाया गया. लेकिन खालिद ने अस्पताल ले जाते हुए रास्ते में ही दम तोड़ दिया. करीब 60 राउंड की फायरिंग के बाद हमलावार कार से सवार होकर बदायूं-शिकारपुर हाईवे की ओर फरार हो गए. एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि हमलावरों की तलाश की जा रही है. 

डिप्टी CM केशव मौर्य बोले- BJP ने लुंगी और जालीदार टोपी वाले गुंडों से मुक्ति दिलाई

हाजी यूनुस शनिवार को ही बसपा से रालोद में शामिल हुए थे. वह बुलंदशहर सदर सीट से बसपा के टिकट पर विधानसभा का चुनाव लड़ चुके हैं. उससे पहले सदर ब्लॉक प्रमुख भी रहे हैं. वर्तमान में उनकी पत्नी निशा परवीन सदर ब्लॉक प्रमुख हैं. इस हमले के लिए हाजी यूनुस ने पुलिस प्रशासन पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है.  हाजी यूनुस के अनुसार उनके द्वारा पहले ही सुरक्षा संबंधी शिकायत की गई थी. लेकिन पुलिस ने ना ही कोई कारवाई की और ना ही सुरक्षा दे पाई. अगर पुलिस ने सुरक्षा दी होती तो हमला नहीं होता. अगर होता भी तो हमलावर मौके से पकड़े जाते. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें